उत्तर प्रदेश: क्वारंटाइन खत्म होने के बाद जमातियों के साथ क्या किया गया, 7 थाईलैंड के और 10 इंडोनेशिया के थे

दिल्ली के निजामुद्दी मरकज से निकल कर उत्तर प्रदेश गए जामतियों पर अब कार्रवाई शुरू हो गई है। बहराइच पुलिस ने शनिवार को क्वारंटाइन खत्म होने के बाद 21 जमातियों पर कारवाही हुई है। बता दें क्वारंटीन खत्म होने के बाद यहां 17 जमातियों को रविवार को पहले मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया और फिर वहां से जेल भेज दिया गया. इन सभी को वीजा और पासपोर्ट नियमों को तोड़ने करने का दोषी पाया गया था।

आपको बता दें दिल्ली के निजामुद्दी मरकज से उत्तर प्रदेश में आए 21 जमातियों को जेल भेजा है इनमें चार भारतीय, सात थाईलैंड के और 10 इंडोनेशिया मूल के जमाती शामिल हैं। हलाकि इन सभी की कोरोना वायरस की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जानकारी के मुताबिक, बहराइच पुलिस ने शहर की ताज और कुरैश मस्जिद से 17 विदेशी नागरिकों समेत 21 जमातियों को क्वारंटाइन ने रखा था।

बहराइच पुलिस ने सभी जमातियों को क्वारंटाइ में रखा और इनकी रिपोर्ट जांच के लिए भेजी थी। साथ ही सभी पर धारा 269, 270,271,188, म’हामा’री अधिनियम 1897 की धारा 03, पासपोर्ट अधिनियम 1967 की धारा 12(3), विदेशियों विषयक अधिनियम 1946 की धारा 14 बी, विदेशियों विषयक अधिनियम 1946 की धारा 14 सी और आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 56 के तहत मामला दर्ज

आपको बता दें उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या शनिवार को बढ़कर 448 हो गई। वही मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि शनिवार सुबह तक 15 और नए मामले सामने आए है।

गौरतलब है कि दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में जलसे के बाद कई जमातियों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई थी। इसके बाद पूरे देश में ह’ड़कं’प मच गया था, क्योंकि निजामुद्दीन मरकज से होकर कई जमाती देश के अलग-अलग राज्यों में चले गए थे।

जबकि इनमें कई विदेशी जमाती भी शामिल थे। बाद में यूपी समेत अलग अलग राज्यों की सरकारों ने जमातियों को अपने यहां ढूंढकर क्वारंटाइन किया था। अब क्वारंटाइन खत्म होने के बाद कानून के हिसाब से इनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।