विधानसभा चुनाव से पहले दिल्ली वासियों केजरीवाल सरकार का बड़ा तोहफ़ा

दिल्ली में विधानसभा चुनाव अगले साल होने हैं, लेकिन इससे पहले ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बड़ा ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली के लोगों को अब 200 यूनिट तक किसी भी तरह का बिल नहीं देना होगा। यानी कि 200 यूनिट तक बिजली खर्च करना पूरी तरह फ्री रहेगा। केजरीवाल ने बताया कि 201 से 400 यूनिटी बिजली खर्च करने पर 50 प्रतिशत की सब्सिडी दी जाएगी।

गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केजरीवाल ने घोषणा की है कि दिल्ली सरकार 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल कर रहे दिल्ली के उपभोक्ताओं को किसी भी तरह का कोई बिल नहीं देना होगा उन्होंने बताया कि 201 से लेकर 401 यूनिट तक बिजली के इस्तेमाल पर भी सरकार 50 प्रतिशत सब्सिडी देगी केजरीवाल ने कहा कि इससे बिजली में बिजली की बचत को बढ़ावा मिलेगा. 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल करने वालों को कल तक 622 रुपये देने पड़ते थे, अब हो मुफ्त मिलेगी।

3996eNGWI5WXNW5dQRLp24ImC68N7uFjVTJs7200110
Image Source: Google

वही दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने केजरीवाल सरकार के 200 यूनिट तक बिजली मुफ्त करने के फैसले का स्वागत किया. मनोज तिवारी ने कहा कि हम मुख्यमंत्री केजरीवाल के इस फैसले खुश हैं कि हमारे संघर्ष ने कम से कम इतना तो किया कि 200 यूनिट तक ही सही लोगों को फ्री बिजली का आश्वासन मिला।

इससे पहले बुधवार को दिल्ली में बिजली पर फिक्स चार्ज घटाए गए थे. दिल्ली विद्युत विनियामक आयोग DERC के चेयरमैन जस्टिस एसएस चौहान ने बताया कि 2 किलोवाट तक 20 रुपये प्रति किलोवाट शुल्क होगा जो कि अब तक 125 रुपये प्रति किलोवाट था. दूसरी तरफ 1200 यूनिट से अधिक खपत पर प्रति यूनिट शुल्क बढ़ाया गया है।

अब तक यह 7.75 रुपये था जो अब 8 रुपये प्रति यूनिट किया गया है. साथ ही चौहान ने बताया कि 2 से 5 किलोवाट तक के लिए फिक्स चार्ज अब तक 140 रुपये प्रति किलोवाट था जो कि 50 रुपये प्रति किलोवाट किया गया है. अब तक 5 से 15 किलोवाट के कनेक्शन पर 175 रुपये प्रति किलोवाट शुल्क था जो कि 100 रुपये प्रति किलोवाट कर दिया गया है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *