हाउडी मोदी कार्येक्रम के एक दिन बाद ट्रंप ने की मोदी की आलोच’ना

हाउडी मोदी कार्येक्रम को लेकर पूरी दुनिया में प्रधानमंत्री मोदी फेमस हो गए हैं| इस कार्येक्रम में 50 हज़ार भारतीय अमेरिकी ने मिलकर मोदी का स्वागत किया लेकिन वहीँ दूसरी और 10 हज़ार से ज्यादा अमेरिकी भारतियों ने कश्मीर मु’द्दे को लेकर मोदी का विरो’ध भी किया| इन सब के चलते कार्येक्रम अच्छे से हो गया और आपको बता दें कि इस कार्येक्रम की सबसे अच्छी बात यह हुई कि मोदी के साथ अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी उनके इस कार्येक्रम में मौजूद थे| परन्तु आपको बता दें कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मंच साझा करने के एक दिन बाद संयुक्त राष्ट्र अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान से मुलाकात की है|

बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाक़ात में कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री का ह्यूस्टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम में दिया गया बयान काफी आक्रामक था| साथ ही ट्रंप ने यह भी कहा कि मुझे अंदाज़ा नहीं था कि ऐसा कोई बयान दिया जायेगा लेकिन इसे सही तरह से लिया गया|

बता दें कि ट्रंप से कश्मीर में मानवाधिकार की स्थिति और उल्लंघन के बारे में सवाल किया गया था, जिसके जवाब में उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि हर एक के साथ अच्छा व्यवहार हो मैं चाहता हूं कि उनके साथ मानवीय व्यवहार हो|

इसी के चलते ट्रंप ने आगे कहा कि यह दो बड़े देश हैं जिनके बीच यु’द्ध चलता रहा है और वे लड़ते रहे हैं, मैंने कल एक काफी आक्राम’क बयान सुना मैं नहीं कहूंगा कि मैं वहां नहीं था| मुझे नहीं पता था कि मैं ऐसा बयान सुनूं’गा लेकिन मैं वहीं बैठा था|

साथ ही उन्होंने कहा कि मैंने भारत की ओर से, भारत के प्रधानमंत्री का एक काफी आक्राम’क बयान सुना, लेकिन मैं कहूंगा कि उस कमरे में इस बयान को ठीक तरह से लिया गया, वहां करीब 50,000 लोग मौजूद थे, लेकिन यह बयान बहुत आक्रामक था|

उन्होंने अपनी बयान में यह भी जोड़ा कि वे दोनों देशों को साथ देखना चाहते हैं| उन्होंने कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि भारत और पाकिस्तान कभी साथ आने में कामयाब होंगे और कुछ ऐसा करेंगे जो दोनों के लिए अच्छा होगा| मुझे यकीन है कि कोई न कोई हल होगा क्यूंकि हल हमेशा होता है और मैं वाकई चाहता हूं कि इसका भी कोई समाधान हो|

आपको मालूम होगा कि इससे पहले ह्यूस्टन में हुए हाउडी मोदी कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान का नाम लिए बगै’र कहा था कि भारत अपने यहां जो कर रहा है, उससे कुछ ऐसे लोगों को भी दिक्कत हो रही है जिनसे खुद अपना देश नहीं संभ’ल रहा है|

साथ ही मोदी ने कहा कि उन लोगों ने भारत के प्रति नफरत को अपनी राजनीति का केंद्र बना दिया है| वे आ’तं’क के समर्थ’क हैं, उसे पालते पोसते हैं उनकी पहचान सिर्फ आप नहीं पूरी दुनिया अच्छी तरह जानती है|

बता दें कि मोदी यहीं नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा कि अमेरिका में हुआ 9/11 हो या मुंबई में 26/11, उसके सा’जिशक’र्ता कहां पाए गए? अब समय आ गया है कि आतं#कवा’द को शह देने वालों के खिला’फ निर्णाय’क लड़ा’ई ल’ड़ी जाए|

मोदी के इस भाष’ण के दौरान राष्ट्रपति ट्रंप पहली कतार में बैठे थे और एक ट्रांसलेशन डिवाइस की मदद से उनका भाष’ण सुन रहे थे| बता दें कि ट्रंप और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की इस मुलाकात के दौरान पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी और अमेरिका में उनके राजदूत असद मजीद खान भी मौजूद थे|

साभारः #TheWire