आप विधायक अमानतुल्लाह की जीत के जश्न ने निकल रहे जुलूस में मचा बवाल, लाठीचार्ज और पथराव

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 का रिजल्ट घोषित हो चुके हैं। वही दिल्ली विधानसभा चुनाव परिणाम आने से पहले ही एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी (AAP) को बहुमत मिल चुका है। वही ओखला विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार अमानतुल्लाह खान ने सबसे बड़ी जीत दर्ज की है। AAP उम्मीदवार अमानतुल्लाह खान ने 71 हजार 827 वोटों से जीत दर्ज की है।

बता दें रिकॉर्ड तोड़ संख्या में बढ़त मिलने के बाद AAP उम्‍मीदवार अमानतुल्‍लाह खान ने बीजेपी और गृहमंत्री अमित शाह पर जमकर ह’मला बोला है. उन्होंने कहा है, दिल्‍ली की जनता ने आज बीजेपी और अमित शाह को करंट लगाने का काम किया है, ये काम की जीत हुई है और नफरत की हार मैंने नहीं जनता ने रिकॉर्ड तोड़ा है।

आपको बता दें विधायक अमानतुल्लाह की जीत के बाद उनके पैतृक गांव अगवानपुर में मंगलवार शाम जुलूस निकाला गया, जिसमें जमकर बवाल हो गया। इस दौरान हुड़दंग और हंगामे की सूचना पर पुलिस टीम पहुंच गई और जमकर हड़काया। लोगों का आरोप है कि पुलिस ने भी’ड़ पर ला’ठियां फटकारीं और महिलाओं से भी कथित रूप से अभद्रता की।

हलाकि सोशल मीडिया पर कई महिलाओं की वीडियो भी वायरल हो रही है। लेकिन पुलिस कहना है की उन्होंने कोई बल प्रयोग और मारपीट नहीं की है। हलाकि इस मामले पर जैना खान नाम की एक युवती ने विधायक को अपना भाई बताते हुए आरोप लगाया कि पुलिस ने ला’ठियां मारी और महिलाओं के साथ अभद्रता की।

वही मेरठ के एसपी अविनाश पांडेय ने कहा कि पुलिस जुलूस की सूचना पर गांव पहुंची थी। इस दौरान लोगों को धारा 144 का हवाला देते हुए शांति बनाए रखने के लिए कहा गया। पुलिस पर जो भी आरोप लगाए गए हैं, वो गलत है। साजिश के तहत ये सब किया गया है।

बता दें विधायक अमानतुल्लाह खान के कुछ सदस्य अभी भी उनके गांव में ही रहते हैं। मंगलवार शाम विधायक के जीतने की खुशी में उनके पैतृक गांव अगवानपुर परीक्षितगढ़ में परिवार से जुड़े सदस्य और ग्रामीण मिठाई बांट रहे थे। उसके बाद गांव में जुलूस निकाला गया जिसमे बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हुई थीं।