मृत गाय देख भड़की महिला CO से बोली- तेरे बीवी बच्चों को यहीं जिंदा गढ़वा दूंगी, तेरी बंदूक में जितनी गोलियां है भेजे में डाल दूंगी

अलीगढ़: अलीगढ़-इगलास रोड स्थित नहर किनारे बड़े से गड्ढे में गोवंश मिलने से ग्रामीणों ने जमकर हंगामा हुआ जिसके बाद जिला प्रशासन ने गद्दे की खुदाई चालू की तो कई गाय गड्ढे में दबी निकली हैं, जिनमें अधिकतर मृत हो चुकी थी और कई गाय की बेहोश थी खुदाई के दौरान गौवंश दबे होने की सूचना पर भारी मात्रा में ग्रामीण और हिंदूवादी हुए एकत्रित, आक्रोशित ग्रामीणों ने रोड पर मृतक गौवंश को रखकर जाम लगा डाला।

ग्रामीणों के आक्रोशित को देखते हुए मौके पर कई थानों का पुलिस फोर्स और जिला प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे, जेसीबी मशीन से की जा रही है खुदाई, लगातार कई दिनों से सरकारी स्कूल और अस्पतालों में आवारा पशुओं को किसानों द्वारा किया जा रहा था बंद, थाना इगलास इलाके के अलीगढ़ रोड स्थित नहर का मामला।

मौके पर तमाम अधिकारियों और पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में एक महिला सीओ पर आग बबूला हो गई। महिला आपा खो बैठी और सीओ ऐसी धमकी दे डाली कि मौजूद लोगों के होश उड़ गए। महिला ने सीओ के पूरे परिवार को जमीन में गढ़वाने की धमकी दे डाली। महिला को जब रोकने की कोशिश की उसने कहा कि ‘तेरी बंदूक में जितनी गोलियां हैं, तेरे भेजे में भर दूंगी।

यह महिला एक टीचर और गौरक्षा वाहिनी की कार्यकर्ता प्रिया उर्फ ऐश्वर्या गौतम बताई जा रही है। दरअसल यह महिला स्थानिया स्कूल में पढ़ाने जा रही थी गौरक्षा वाहिनी की कार्यकर्ता ऐश्वर्या गौतम बस में सवार थी, रास्ते मे जाम लगा मिला तो बस से उतर कर आ गई और मौके पर नजारा देखकर पुलिस से उसने कुछ कहा तो नौकझौक हो गई।

फिर क्या था ऐश्वर्या का दिमाग का पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया और सीओ को बेइंतेहा खरी खोटी सुना डाली। इस मौके पर एसडीएम समेत अन्य पुलिस कर्मी उसे समझाते रहे। जिसका वीडियो आज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। आपको बतादें इस मामले में गौरक्षा वाहिनी की ऐश्वर्या गौतम, भावना शर्मा समेत कई लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया हुआ है। जिसमें ऐश्वर्या को थाने से ही मुचलके पर छोड़ दिया गया।

गौरक्षा वाहिनी की कार्यकर्ता को धमकी देने की वीडियो हुई वायरल, वीडियो में सीओ समेत उसके परिवार को जिंदा गाड़ने की दी धमकी, भेजे में गोलियां उतारने की ढ़ी गई है धमकी, पुलिस ने शांतिभंग में की कार्यवाई अगर इन्हें कुछ भी हुआ, एक भी मरी तो तुम लोगों के बीवी बच्चों को यहीं जिंदा गढ़वा दूंगी,,, मैं जोश में नहीं आ रही हूं,,,, तेरी बंदूक में जितनी गोलियां है तेरे भेजे में भर दूंगी मैं,,,, जो बेचारे बोल नहीं सकते जानवर, अपने दर्द नहीं बता सकते,,, उन्हें जिंदा गढ़वा दिया,,,,,, आखिर क्यों,,,,,,??

Posted by अर्जुन देव वार्ष्णेय on Friday, December 28, 2018