2 साल की मासूम बच्ची की ह’त्या के मामले में अलीगढ़ बार एसोसिएशन का बड़ा फैसला

नई दिल्ली: यूपी के अलीगढ़ जिले में ढाई साल की मासूम बच्‍ची ट्विंकल शर्मा की नि’र्म’म ह’त्‍या के बाद देश व प्रदेश में त’नाव का माहौल बना हुआ है। राजनीति, खेल, फिल्‍म समेत समाज के हर तबके लोग बड़ी संख्‍या में ट्वीट और फेसबुक पर ट्विंकल शर्मा के का’ति’लों को फां’सी की स’जा देने की मांग कर रहे हैं।

इस घटना के बाद गुस्साए लोगों की मांग है कि दोषियों को ऐसी सजा मिले, जिससे भविष्य में कोई ऐसा करने के बारे में सोचे भी नहीं। सोशल मीडिया पर भी बच्ची की ह’त्या के इस मामले में का’फी रो’ष देखने को मिल रहा है। इस मामले में अभी तक महिला सहित चार लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। वहीं, इस केस को लेकर अलीगढ़ बार एसोसिएशन ने एक बड़ा फैसला लिया है।

कोई नहीं लड़ेगा आरोपियों का केस

अलीगढ़ के वकीलों ने फैसला लिया है कि जिले का कोई भी वकील मासूम बच्ची की ह’त्या के आरोपियों का के’स नहीं ल’ड़ेगा। अलीगढ़ बार एसोसिएशन के महासचिव एडवोकेट अनूप कौशिक ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया, ‘हम पूरी तरह उस दो सा’ल की बच्ची’ के परिवार के साथ खड़े हैं, जिसकी ह’त्या टप्पल में हुई थी।

अलीगढ़ क्या पुरे यूपी में बच्ची की ह’त्या के आरोपियों की पैरवी के लिए कोई वकील अदालत में पेश नहीं होगा। हम लोग बाहर के किसी वकील को भी आरोपियों की तरफ से इस मुकदमे में पैरवी नहीं करने देंगे। हम लोग उस बच्ची के इंसाफ के लिए लड़ेंगे।

गौरतलब है कि अलीगढ़ के टप्पल इलाके में एक बच्ची चार दिन से लापता थी। बीते रविवार को उसका श’व एक कू’ड़े के ढेर में पड़ा हुआ मिला। बच्ची का श’व देखकर इलाके के लोगों का गु’स्सा भड़क गया और उन्होंने श’व को थाने के सामने रखकर सड़क पर जाम लगा दिया। परिजनों ने बच्ची के साथ रे’प की आशंका जताई।

वहीं पो’स्ट’मार्ट’म रि’पोर्ट में भी खु’लासा हुआ है कि बच्ची की ह’त्या बे’ह’द निर्मम तरीके से की गई थी। पुलिस का कहना है कि उसने दोनों मुख्य आरोपियों को गिर’फ्ता’र कर लिया है और उन्हें स’ख्त सजा दि’लाकर बच्ची के परिजनों को इंसाफ दिलाएगी।