VIDEO: तब्लीगी जमात के चीफ मौलाना साद के ऑडियो क्लिप से हुई थी छे’ड़छा’ड़, हुआ बड़ा खुलासा

नई दिल्लीः दिल्ली स्थित निजामुद्दीन मरकज के चीफ मौलाना साद कंधालवी एक ऑडियो क्लिप वायरल हुआ था, जिसमे तब्लीगी जमात के लोगों को कथित तौर पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने को लेकर कहा जा रहा था हालांकि अब जांच में सामने आया है कि इस AUDIO क्लिप के साथ छे’ड़छा’ड़ की गई थी. पुलिस जांच में पता चला है कि उस ऑडियो क्लिप को तो’ड़ मरो’ड़ कर उसे तैयार किया गया है था।

पुलिस ने फिलहाल उस ऑडियो क्लिप समेत कई अन्य ऑडियो क्लिप को जांच के लिए फोरेंसिक साइंस लेबोरेट्री भेज दिया गया है. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, पुलिस को मरकज सदस्यों के पास से एक लैपटॉप मिला है, जिसमें कई ऑडियो क्लिप मिली हैं. पुलिस ने इन ऑडियो क्लिप की जांच की है।

इन ऑडियो क्लिप से पता चला है कि इनमें मरकज के इवेंट की ऑडियो क्लिप, जमात के समर्थकों को भेजी गई ऑडियो क्लिप और और जमात के यूट्यूब चैनल पर अपलोड की गई है ऑडियो क्लिप शामिल हैं. इंस्पेक्टर सतीश कुमार की अगुवाई वाली जांच टीम वायरल हुई ऑडियो क्लिप का पता लगाने की कोशिश कर रही है।

गौरतलब है की इस मामले की जाँच केंद्रीय जांच एजेंसियों से लेकर क्राइम ब्रांच कर रही हैं. बता दें तफ्तीश के दौरान मार्च के महीने में करीब 16500 जमातियों के मरकज में होने की बात सामने आई है. लेकिन दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच चार नोटिस भेजने के बाद अब तक तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद तक नहीं पहुंच सकी है।

 

जबकि मौलाना ने कहा है कि सभी उनकी लोकेशन से परिचित हैं, इसलिए जब उनको जांच में शामिल होने के लिए कहा जाएगा तो वो पेश हो जाएंगे. क्राइम ब्रांच ने निजामुद्दीन पुलिस थाने के बयान पर 31 मार्च को साद समेत 7 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। इसके बाद गैर इरादतन ह#त्या का मामला दर्ज किया है।

आपको बता दें मौलाना के 3 बेटों से लगातार पूछताछ की जा रही है. वही भांजे और 2 करीबियों से भी पूछ तांछ हो गई है. सूत्रों ने बताया कि क्राइम ब्रांच ने मंगलवार को मौलाना के मंझले बेटे सईद से पूछताछ की और उससे मरकज का कामकाज देखने वाले 20 कर्मचारियों के बारे में जानकारी हासिल की।

वही पुलिस ने सईद को हिदायत दी है कि वह पिता साद से सरकारी अस्पताल से को’रो’ना टेस्ट कराकर उसकी रिपोर्ट जल्दी भेजे पुलिस अब तक साद के नाम पर चार नोटिस भेज चुकी है, जिनके उसे अधूरे जवाब मिले हैं।