ये है असली हिंदुस्तान की तस्वीर- अयोध्या के श्री सीताराम मंदिर में हुई इफ्तार पार्टी, पुजारी बोले- मैं भविष्य में…

दुनिया भर में मुस्लिम धर्म के पवित्र माह रमज़ान का जश्न मनाया जा रहा है. वहीं देश में हाल ही में लोकसभा चुनाव संपन्न हुए है और इसी बीच उत्तर प्रदेश के अयोध्या से एक ऐसी खबर सामने आई जिसे जानकर हर कोई हैरान रह गया. दरअसल सोमवार को अयोध्या में कुछ ऐसा वाकया हुआ जिसकी मिसाल न सिर्फ स्थानीय लोगों के लिए बल्कि देशभर में दी जा रही है.

बताया जा रहा है कि अयोध्या के श्री सीताराम मंदिर ने रमजान के महीने में इफ्तार का आयोजन किया गया जो सूबे ही नहीं बल्कि देश भर में चर्चा का विषय बन गया. सोमवार को रमजान के पाक महीने में सांप्रदा’यिक सौहार्द की मिसाल पेश करते हुए धार्मिक भावनाओं से परे अयोध्या के श्री सीताराम मंदिर के परिसर में इफ्तार के लिए हिंदू-मुस्लिम सभी एक साथ आए.

न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में मंदिर के पुजारी युगल किशोर ने बताया कि यह तीसरा मौका है जब हम लोग रमजान के पाक माह में इफ्तार पार्टी का आयोजन कर रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भविष्य में भी मंदिर रमजान के दौरान ऐसे इफ्तार लगातार करता रहेगा.

उन्होंने कहा कि हमें हर त्यौहार पुरे उत्साह के साथ मनाना चाहिए. वहीं इफ्तार पार्टी में शामिल होने वाले मुजम्मिल फिजा ने इस दौरान कहा कि इसी तरह की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए वह हर वर्ष अपने हिंदू भाइयों के साथ मिलकर नवरात्रि भी मनाते हैं.

मुजम्मिल फिजा ने कहा कि कुछ एजेंडा वाले लोग नहीं चाहते हैं कि सभी समुदाय एक साथ रहे और इस तरह का आयोजन करें. देश में लगभग सभी पार्टियां धर्म के नाम पर राजनीति करती हैं जबकि किशोर जैसे लोग प्रेम का संदेश देते हैं.

आपको बता दें कि रमजान के पाक महीने की शुरुआत 5 मई से हुई हैं, यह महिना 4 जून तक चलेगा. 30 दिनों के रोज़ों के बाद शव्वाल की पहली तारीख को ईद-उल-फितर का त्योहार मनाया गया. इसे मीठी ईद भी कहा जाता है. ईद के दिन रोज़ादार नमाज से पहले गरीबों में दान भी करते हैं.