VIDEO: रमज़ान के पहले दिन दिल्ली की मस्जिदों में अज़ान पर पा’बंदी? पुलिस ने कहा अगर अज़ान दी तो उठा ले जायेंगे

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के चलते देश भर में लॉक डाउन चल रहा है. वही लॉकडाउन में सोशल डिस्टेंस का ख्याल रखते हुए दिल्ली वक्फ बोर्ड ने मुस्लिम समुदाय से अपील की है कि वे कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए रमजान में घर में ही नमाज़ अदा करें और घर से ही इबादत करें. बोर्ड ने उसके तहत आने वाली मस्जिदों से महा’मा’री से नि’पटने के दिशा निर्देशों को लेकर जागरूकता फैलाने को भी कहा है.

एक अधिकारी ने बताया कि बोर्ड के सीईओ एसएम अली खान ने शहर की सभी मस्जिदों, खासकर उसके तहत आने वाली मस्जिदों के लिए परामर्श जारी किया है. परामर्श के मुताबिक, लोगों को रमज़ान के दौरान घरों में ही रहकर नमाज़ पढ़नी होगी. मस्जिद में नमाज़ पढाने वाले इमाम, अज़ान देने वाले मुअज़्ज़िन और मुतवल्ली संरक्षक ही नमाज़ पढ़ सकते हैं.

द वायर की खबर के मुताबिक, इसमें कहा गया है कि पाक महीने रमज़ान में कोरोना वायरस से राहत के लिए मस्जिदों में विशेष नमाज़ें पढ़ी जा सकती हैं. अधिकारी ने बताया कि मस्जिदों से कहा गया है कि वे महा’मा’री से संबंधित सरकार के विभिन्न दिशा निर्देशों के बारे में जागरूकता फैलाएं. दिशा निर्देशों को हर अज़ान के बाद चलाएं.

लेकिन अब खबर दिल्ली से आ रही है जहां मस्जिदों में अज़ान पर देने को मना किया जा रहा है. आपको बता दें कल यानि 23 अप्रेल को प्रेम नगर किराड़ी दिल्ली में शाम 5 बजे जगह-जगह मस्जिदों में जाकर पुलिस द्वारा बिना किसी ऑफिसियल नोटिस और लेटर के दिल्ली एलजी का नाम लेकर मस्जिदों में अजान नहीं देने को कहा जा रहा है.

गौरतलब है की सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. यह प्रेम नगर किराड़ी का बताया जा रहा है. जिसमे दो पुलिसकर्मी एक मस्जिद के बहार खड़े होकर मस्जिद के मुअज़्ज़िन से बात करते नज़र आ रहे है. पुलिसकर्मी कहते है की दिल्ली एलजी का आर्डर है. मस्जिद में अजान पर पा’वंदी लगाई गई है. अगर आप ने अजान दी तो उठा ले जायेंगे.

 

हालाँकी दिल्ली गवर्नमेंट ने न होम मिनिस्ट्री ने और न ही एलजी की और से ऐसी कोई गाइडलाइन जारी नहीं की गयी है. और न ही उन्होंने इस मामले को लेकर कोई नोटिस दिया, जब इस बात की तहकीकात की गई तो पाया गया कि दिल्ली में कहीं भी ऐसा कोई अधिकारिक आर्डर जारी नहीं किया गया है, जिसके तहत दिल्ली में मस्जिदों में अजान बंद करने का आदेश मिला हो .

यह सिर्फ किराड़ी प्रेम नगर पुलिस स्टेशन द्वारा ऐसा किया जा रहा है, यह किस मकसद से किया गया या क्या इरादा था ऐसा करने के पीछे इस बारे में जब SHO साहब से बात की गई तो उन्होंने कहा कि बस दिल्ली एलजी का आर्डर है, और उन्होंने कोई नोटिस भी नहीं दिखाया.