बड़ी खबर: भोपाल तब्लीग़ी इज्तिमा की दुआ का टाइम बदला, देखें अब कब होगी दुआ

दोस्तों जैसा कि आप सब जानते हैं भोपाल के आलमी तब्लीगी इज्तिमा में देशभर के अलावा विदेशों से भी मुस्लिम लोग यहां 3 दिन के लिए शामिल होने के लिए आते हैं| और 3 दिन तक इबादत और बयानों का सिलसिला जारी रहता है| इसके बाद इस आलमी तब्लीगी इज्तिमा का समापन एक दुआ के साथ पूरा किया जाता है, जो की इज्तिमा के तीसरे दिन सुबह लगभग 10 या 11 बजे की जाती है| लेकिन इस बार भोपाल के इस इज्तिमा की दुआ का दिन इस बार 26 तारीख का था जो इज्तिमा के तीन दिन 23, 24, 25 पूरे होने के बाद 26 को की जाती इसका दिन और टाइम भी बदल दिया गया है|

भोपाल के इस तबलीगी इज्तेमा में लोग तीन दिन पूरे होने पर सुबह 10 बजे तक दुआ मांग ली जाती थी लेकिन इस बार ये दुआ 25 तारिख को ही मगरिब की नमाज़ के बाद मांगी जायेगी| और ये फैसला बड़े बुजुर्गों के मशवरे और ऑल इंडिया उलमा बोर्ड के बाद लिया गया है क्योंकि इस्लामी तारिख के हिसाब से मगरिब के वक़्त दिन पूरा हो जाता है| पोस्ट सभी लोगों तक पहुंचा दें|

हालांकी कुछ लोगों ने जो दूर-दराज़ के इलाकों से आते हैं जिनमे से कुछ लोग पहली ही अपना ट्रेन या हवाई जहाज़ का रिसर्वेशन उस 26 तारीख के हिसाब से ही करवा लिया है| लेकिन अभी भी बहुत से लोग ऐसे हैं जो अपने लौटने का टिकट 26 को उसी वजह से करवाएंगे कि सुबह दुआ से फारिग होकर अपने घर को वापिस लौटा जायेगा| आप इस पोस्ट को सभी दोस्तों तक शेयर कर दीजिये जिससे लोगों का टाइम ख़राब न हो और वो बाद मगरिब के दुआ से फारिग होकर 25 की रात में ही अपने हिसाब से सुविधा अनुसार रिज़र्वेशन या और दूसरी तरह की बुकिंग करवा लें|

ये जानकारी हमें अभी अभी गुना मध्य प्रदेश के शहर काज़ी के द्वारा पता लगी| तो आपसे मशवरे के बाद हमने सोचा के लोगों को ये ज़रूरी इतेला अपने पोर्टल के ज़रिये दे दी जाय तो बेहतर रहेगा| आपको बता दें दोस्तों इन तीन दिनों तक जब तक इज्तेमा चलता है भोपाल शहर की रौनक ही कुछ और होती है|

इसके समापन के बाद भोपाल की बड़ी ताजुल मस्जिद के चौक में एक बड़ा मेला भी लगता है जहाँ से लोग ज़्यादातर अपने लिए दीनी किताबें और दीनी ज़रूरतों का सामान भी खरीदते हैं| ये मेला खासतौर से गर्म कपड़ों के लिए बहुत फेमस है| अधिकतर भोपाल के निवासी भी यहाँ ज़बर्जस्त खरीददारी करते हैं|