बीजेपी नेता शाहनवाज़ हुसैन बोले इस्लाम के खिलाफ, कहा- मुस्लि’म बुद्धिजीवि’यों को…

जम्मू कश्मीर से केंद्रीय सरकार द्वारा अनुछेद 370 और 35A के ज्यादातर प्रावधान ख’त्म करने पर अभी तक देश भर से नेताओं के आये दिन बयान आते रहते हैं| हाल ही में एक बीजेपी के वरिष्ठ नेता का इस मुद्दे को लेकर इस्लाम के खिला’फ तीखा बयान आया है| बता दें कि भाजपा के वरिष्ठ नेता सैयद शाहनवाज हुसैन ने गुरुवार को जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा दिए जाने का विरो’ध करते हुए मुस्लि’म बुद्धिजीवि’यों पर प्रहार किया और कहा कि अनुच्छेद 35 ए इस्ला’म के खिलाफ था। साथ ही उन्होंने अमित शाह का बचाव करते हुए पुछा कि लोगों को इससे क्या समस्या है।

आपको बता दें कि पूर्वी चंपारण जिला मुख्यालय मोतिहारी में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता हुसैन ने आरोप लगाया है कि निरस्त संवैधानिक प्रावधान ने जम्मू कश्मीर के बाहर के किसी व्यक्ति से शादी करने की स्थिति में पैतृक संपत्ति पर महिला के अधिकार को छीन लिया था जो शरिया के खिला’फ था।

इसी के साथ उन्होंने कहा कि जो मुस्लि’म बुद्धिजी’वी जम्मू कश्मीर को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार की कार्रवाई का विरो’ध कर रहे हैं और इसे हिंदू बनाम मुस्लि’म मुद्दा बना रहे हैं उनसे एक सवाल है कि क्या उन्हें लगता है कि अनुच्छेद 35 ए इस्लाम के शरि’या कानू’न के अनुसार था।

हरिभूमी पर छपी खबर के मुताबिक़ हुसैन ने कहा कि शरिया कानून के अनुसार एक बच्ची को उसके माता पिता से विरास’त में मिली सं’पत्ति पर उसके अधिकारों से वंचित नहीं किया जा सकता है लेकिन अनुच्छेद 35 ए ने उसे शर्तिया बना दिया था। निश्चित रूप से संविधा’न द्वारा प्रदत समानता के अधिकार के उल्लंघ’न के अलावा यह इस्लाम के उसूलों के खिला’फ था।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुस्लि’म बुद्धिजीवियों को इस मु’द्दे पर आत्मनिरीक्षण करना चाहिए। पूरे देश में एनआरसी लागू करने को लेकर केंद्रीय मंत्री अमित शाह के बयान का बचाव करते हुए हुसै’न ने पूछा कि लोगों को इससे क्या समस्या है। उन्होंने कहा कि दुनिया का कोई भी देश अवैध रूप से अपनी सीमाओं को पार करने वाले लोगों को बर्दाश्त नहीं करता है। हम भारत में अवैध आव्रज’न की अनुम’ति देने की उम्मीद नहीं कर सकते हैं।

इसी के साथ भाजपा नेता ने अगले साल होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में मान्यता देने के मु’द्दे पर अपनी पार्टी के राज्य स्तरीय नेताओं और जद’यू के बीच हालि’या विवाद को तूल नहीं देने पर जोर दिया है। उन्होंने कहा कि भाजपा अभी महारा’ष्ट्र हरियाणा और झारखंड में विधानसभा चुनावों की तैयारी में व्यस्त है और संबंधित राज्यों के मुख्यमंत्री पार्टी का चेहरा हैं।

हुसैन ने कहा कि इतिहास में ऐसा पहली बार होने जा रहा है कि जब कोई अमेरिकी राष्ट्रपति अपनी धरती पर भारतीय प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा करेंगे। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नीत भारत के बढ़े हुए अं’तरराष्ट्री’य दबदबे को दिखाता है हमें इस पर गर्व होना चाहिए।

साभारः #NDTVIndia