बुलंदशहर मामले में बड़ा खुलासा: इंस्पेक्टर सुबोध से नाराज बीजेपी नेताओं ने की थी…

पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में कथित गोक$शी के शक में हुए बावल को लेकर लगतार चौंकाने वाले खुलासे सामने आ रहे है. इस बवाल के दौरान शहर में भीड़ भड़क गई थी जिसके बाद एक पुलिस इंस्पेक्टर की निर्मम तरीके से जा$न ले ली गई थी. इस दौरान भीड़ का हिस्सा बने एक युवक की भी जा$न चली गई थी. वहीं इस बवाल को लेकर अब एक नया खुलासा हुआ है जिससे हर कोई हैरान है इस मामले में एक पत्र सामने आया है जिसने कई सवाल खड़े कर दिए हैं.

इस घटना के चार दिन बाद एक खुलास किया गया था कि शहीद इंस्पेक्टर से कुछ स्थानीय बीजेपी नेता खुश नहीं थे. लेकिन अब इस घटना में एक पत्र सामने आया है जो एक स्थनीय बीजेपी नेता द्वारा सांसद को लिखा गया था यह पत्र घटना से तीन महीने पहले लिखा गया था.

इस पत्र में शहीद सुबोध कुमार की शिकायत की गई थी. पत्र में कहा गया था कि वह हिन्दुओं के धार्मिक आयोजनों में बाधा डालते हैं जिससे हिन्दू समाज में उनके प्रति रोष है. पत्र में उनके ट्रान्सफर की मांग की गई थी और लिखा गया था कि यह मांग सभी स्थानीय नेताओं ने की हैं.

पत्र में लिखा गया था कि वह गोक$शी और गाय चोरी जैसे मामलों को गंभीरता से नहीं लेते हैं. वहीं बीजेपी बुलंदशहर के महासचिव संजय श्रोतिया के अनुसार सुबोध कई बार हिंदुओं के कार्यक्रम में खलल डालते रहते थे जिसके चलते उनके खिलाफ हिंदू समाज में गुस्सा था.

पत्र में लोग सुबोध के ट्रांसफर की मांग उठा रहे थे इसलिए हम लोगों ने स्थानीय सांसद के नाम 1 सितंबर को पत्र लिखकर इंस्पेक्टर सुबोध के ट्रांसफर की मांग की थी. आपको बता दें कि इस पत्र पर बीजेपी के पूर्व पार्षद मनोज त्यागी के साथ बीजेपी कई स्थानीय नेताओं ने हस्ताक्षर किए थे.