VIDEO: सीएम योगी को कवर करने आए पत्रकारों DM ने कमरे में किया बंद, ताकि सीएम से ना पूछ सकें बदहाल अस्पताल से जुड़े सवाल

मुरादाबाद: कुछ दिन पहले पत्रकार को गिरफ्तार करने वाली उत्तर प्रदेश सरकार फिर विवादों में है. इस बार पत्रकारों को कमरे में बंद किया गया है. मामला 30 जून रविवार का है. दरअसल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को मुरादाबाद के दौरे पर थे. यहां एक सरकारी अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधाओं का जायज़ा लेने पहुंचे थे. योगी के अस्पताल पहुंचने पर जिला प्रशासन ने पत्रकारों को सूचना दी कि योगी इमरजेंसी वॉर्ड का दौरा करेंगे. तो पत्रकार वॉर्ड के पास बने कमरे में इकट्ठे हो गए।

खबर है कि मुरादाबाद के डीएम ने योगी के अस्पताल पहुंचते ही वहां मौजूद पत्रकारों को इमरजेंसी वार्ड में बंद करवा दिया ताकि पत्रकार बदहाल अस्पताल से जुड़े सवाल सीएम योगी से ना पूछ पाएं। बताया जा रहा है कि मुरादाबाद के डीएम राकेश कुमार सिंह ने पत्रकारों को इमरजेंसी वार्ड में बंद ही नहीं किया इसके अलावा उन्होंने सिविल लाइन थाना के प्रभारी शक्ति सिंह को निगरानी के लिए लगा दिया।

yogi adityanath PTI 1
Image Source: Google

ताकि कोई भी पत्रकार सीएम योगी के दौरे के दौरान बाहर नहीं निकल सके। सीएम योगी जब अस्पताल का दौरा कर वापस लौट गए तब जाकर कहीं इमरजेंसी वार्ड का दरवाजा खोला गया और सारे पत्रकार बाहर निकल पाए। कमरे में बंद किए जाने को लेकर मीडियाकर्मियों ने हंगा’मा किया, हो हल्ला मचाया, पत्रकार दरवाजा पीटते रहे लेकिन प्रशासन ने उनकी एक नहीं सुनी।

इस दौरान सीएम योगी ने मुरादाबाद जिला अस्पताल का निरीक्षण किया, वहां भर्ती लोगों से हाल चाल जाना और उनके परिजनों से बातचीत की। इससे पहले उन्होंने कल सहारनपुर जिले का दौरा किया था। सहारनपुर मुजफ्फरनर और शामली में सीएम योगी ने लोगों के अंदर से अप’राधि’यों का खौ’फ खत्म करने को कहा। उन्होंने पुलिस द्वारा जनता दरबार आयोजित करने के लिए भी कहा।

आपको बता दें कि योगी सरकार के राज में कानून व्यवस्था को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने निशाना साधा था। इसपर पलटवार करते हुए योगी ने कहा था कि प्रियंका गांधी के भाई व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी अमेठी से हार गए, इसलिए उन्हें सुर्खियों में रहने के लिए दिल्ली या इटली में बैठे हुए कुछ कहना होगा तो वह ऐसा कर रहे हैं।

हलाकि प्रियंका गांधी के ट्वीट के जवाब में यूपी पुलिस ने भी ट्वीट करते हुए कहा था कि यूपी पुलिस ने अप’राधि’यों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की है। पुलिस ने पिछले दो सालों में 9,225 अपरा’धि’यों को गिरफ्तार किया गया है जबकि 81 अपराधियों का ए’नकाउं’टर किया गया है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *