पांच राज्‍यों में हार के बाद मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को CM पद से हटाने की मांग, भाजपा मुख्यालय में मचा हड़कंप

पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों ने बीजेपी को करारा झटका दिया है. पांचों राज्यों में केंद्र की सत्ता में बैठी बीजेपी को बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा है. इन नतीजें ने बीजेपी बुरी तरह हिल चुकी है. हार इसलिए भी ज्यादा मायने रखती है क्योंकि आने वाले साल में लोकसभा चुनाव होने है और ऐसे में बीजेपी ने हिंदी पट्टी में गढ कहे जाने वाले राज्यों में मुंह की खाई है. इतना ही नहीं मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की सत्ता में तो बीजेपी पिछले 15 साल से काबिज थी.

ऐसे में आम चुनाव से छह महीने पहले मिली यह हर बीजेपी के लिए यह एक करारा झटका रहा है. इस हार के बाद बीजेपी विपक्षी पार्टियों के निशाने पर आ गई है. इतना ही नहीं अब तो बीजेपी के अंदर भी बड़ी हार के बाद बड़े बदलावों की मांग उठाने लगी है.

बीजेपी के कई बड़े नेता पांच राज्यों की इस हार से काफी निराश है और वह नेतृत्व में बड़े बदलावों की मांग कर रहे है ताकि बीजेपी में एक नया जोश भरा जा सके. बीजेपी के वरिष्ठ पदाधिकारी संघ प्रिय गौतम ने भी पार्टी में बद्लाव की वकालत की है.

उन्होंने न सिर्फ पार्टी में बदलाव की बल्कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को हटाने की मांग की है. बुलंदशहर से बीजेपी इकाई के जिला उपाध्यक्ष से लेकर राष्ट्रीय मंत्री रहे संघ प्रिय गौतम ने कहा कि जनता अब मोदी मंत्र से बुरी तरह ऊब चुकी है.

उन्होंने साथ ही कहा कि पार्टी की इस हार की जिम्मेदारी चाणक्‍य माने जाने वाले राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को लेनी चाहिए जो उन्होंने अभी तक नहीं ली है. उनका कहना है कि अब भारतीय जनता पार्टी को मोदी मैजिक से जीत हासिल नहीं होगी जीत पाने के लिए काम करके दिखाना होगा,

अगले साल आम चुनाव होना है इसी को देखते हुए उन्होंने कहा कि यूपी की कमान अब योगी आदित्यनाथ से लेकर केंदीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को देनी चाहिए. उन्‍होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ को धर्म के काम में लगया जाना चाहिए.

इसके साथ ही उन्होंने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को उपप्रधानमंत्री बनाने की मांग भी की हैं. इसके साथ ही संघ प्रिय गौतम ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को हटाकर शिवराज सिंह चौहान को बीजेपी का नया राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की मांग भी कर डाली है.