चीन में उइगुर मुसलमानों पर आई बड़ी मुसीबत, रमज़ान में रोज़ा रखना भी होगा मुश्किल

चीन से लगातार उइगुर मुसलमानों के दमन की खबरें सामने आ रही हैं. लेकिन चीन हमेशा से ही इन आरोपों और खबरों को पूरी तरह से नकारता रहा है. लेकिन अब चीनी सरकार के एक और आदेश ने यह साफ कर दिया है कि यह खबरें हवा में नहीं है बल्कि इन में सच है. दरअसल चीन ने रमज़ान में सरकारी कर्मचारियों, छात्रों और शिक्षकों के रोज़ा रखने पर बैन लगा दिया है.

यह प्रतिबंध उइगुर मुस्लिम बहुल इलाके शिनज़ियांग प्रांत में लागू किया गया है. इसके साथ ही यहां रमज़ान के दौरान रेस्तरां खुले रहने देने का आदेश भी जारी किया गया है. शियानज़ियांग जिंगे काउंटी के फूड एंड ड्रग प्रशासन ने इस मामले को लेकर वेबसाइट पर नोटिस भी लगा दिया है.

Source: Google

इस्लाम धर्म में पवित्र कहे जाने वाले रमज़ान के महीने में अधिकांश मुस्लिम सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक बिना कुछ खाएं रोज़ा यानि व्रत रखते हैं. लेकिन चीन पर शासन करने वाली कम्युनिस्ट पार्टी आधिकारिक तौर पर नास्तिक है और अब उसने रोज़े को लेकर यह आदेश दिया है जिससे बहुत सारे उइगुर मुसलमान प्रभावित होने वाले हैं.

वहीं पिछले सालों में भी स्कूली बच्चों को व्रत से दूर रखने के कोशिशें होती रही हैं. कई स्कूलों को कहा गया था कि वो बच्चों को रमज़ान के दौरान रोज़े और मस्जिदों से दूर रखें. ठीक इसी तरह के प्रायस कई सालों से किये जा रहे है.

रमज़ान में रोज़े पर बैन लगाने की इन कोशिशों का पुरज़ोर विरोध भी होता रहा है लेकिन इसके बाद भी चीनी सरकार अपनी हरकतों से बाज नहीं आती हैं. आपको बता दें कि शिनज़ियांग में उइगुर मुसलमानों को लेकर पहले से तनाव चल रहा है.

जिसमें सैकड़ों लोग इस दौरान हुई हिं’सक घटनाओं में जान भी खो चुके हैं. वहीं इस मामले पर चीनी सरकार कहती रही है कि शिनज़ियांग प्रांत में आतं’क के खतरे के बादल छाए हुए है और उसी के चलते धार्मिक हिं’सा हो रही है.