रमजान के दौरान मतदान के समय को लेकर आई बड़ी ख़बर, चुनाव आयोग ने दिया ये फ़ैसला

देश में चल रहे लोकसभा चुनावों के आखिरी तीन चरणों के दौरान रमज़ान के पाक महीने को देखते हुए मतदान का समय सुबह सात बजे की जगह पांच बजे करने की मांग की जा रही थी. लेकिन अब चुनाव आयोग ने इस मांग को मानने से माना कर दिया है. चुनाव आयोग ने साफ कर दिया है कि अंतिम तीन राउंड के दौरान मतदान के समय में कोई बदलाव किया जाना संभव नहीं है.

वहीं इससे पहले इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका भी दायर की गई थी. याचिका में रमज़ान के दौरान मतदान के समय को सुबह 7 बजे की बजाय सुबह पांच बजे से करने की मांग की गई थी.

याचिका पर सुनाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से इस संबंध में विचार करने के लिए कहा था. जिसके बाद चुनाव आयोग ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि पांचवे, छठे और सातवें राउंड के मतदान के समय में बदलाव करना संभव नहीं है.

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में वकील मोहम्मद निजामुद्दीन पाशा और असद हयात ने यह याचिका दायर की थी. याचिकाकर्ता ने चुनाव के शेष तीन चरणों के दौरान मतदान का समय सुबह सात बजे के बजाय दो से ढाई घंटे पहले यानि सुबह 4.30 या 5 बजे से करने का अनुरोध किया था.

वहीं समय में बदलाव की मांग के पीछे याचिका में तर्क दिया गया था कि चुनाव के इन शेष चरणों के दौरान देश के कई हिस्सों में लू चलने की परिस्थितियां मौजूद हो जाएगी और ऐसे में रमजान का महीना भी रहेगा. इस दौरान रोजा रखने वाले लोग मतदान के लिए निकल पाना मुश्किल रहेगा. इसलिए मतदान पहले शुरू कराया जाए.

आपको बता दें मुस्लिमों के पवित्र रमज़ान महीना 5 जून से शुरू होने जा रहा है. वहीं लोकसभा चुनाव के अगले तीन चरण के लिए वोटिंग 6 मई, 12 मई और 19 मई को होना हैं.

जिसे लेकर कुछ राजनीतिक दल और धार्मिक गुरुओं का कहना हैं कि रमजान के चलते अल्पसंख्यक वर्ग वोट डालने नहीं निकलेगा क्योंकि वह रोजे पर होता है और गर्मियां काफी तेज होती हैं ऐसे में लंबी लाइनों में लगा कर वोट डालने में दिक्कत हो सकती हैं.