अम्फान तूफान से तबाही: पीएम मोदी ने बंगाल को इतने हजार करोड़ की तत्काल मदद का ऐलान किया, मृ’तकों के परिजनों को 2-2 लाख

शुक्रवार को पूरे 83 दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश में अपना पहला आधिकारिक दौरा पश्चिम बंगाल में किया. पीएम मोदी 283 साल में सबसे भ’या’नक तूफान अम्फान से बंगाल में हुई तबाही का जायजा लेने के लिए पहुंचे. इस दौरान पीएम ने आर्थिक सहायता का भी ऐलान किया. बता दें कि कोरोना वायरस के चलते लगाए गए लॉकडाउन के बाद यह मोदी का पहला अधिकारिक दौरा रहा हैं.

इस दौरान मोदी ने आपदा में हुए जा’न मान के नुकसान का जायजा लिया. इसके बाद मोदी ने बंगाल को अभी 1 हजार करोड़ रुपए की तत्काल आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है. इसके साथ ही इस भ’यान’क आपदा में जिन परिवारों ने अपनों को खोया है उन्हें प्रधानमंत्री राहत कोष से 2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता मुहैया करने की घोषणा भी की.

 

इसके आलावा गं’भीर रूप से घायलों को भी 1 लाख रुपए की मदद की जाएगी. पीएम ने कहा कि केंद्र सरकार की एक टीम बंगाल पर लगातार नजर बनाए रखेगी और नुकसान का जायजा लेगी और उन्हें जो भी जरूरतें होगी उनकी पूर्ति की जाएगी. इसके साथ ही नीति-नियम के साथ कदम उठाए जाएगें और नुकसान की भरपाई का पूरा प्रयास किया जाएगा.

पीएम मोदी के इस दौरे के दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी उनके साथ ही रहीं. दोनों नेता कोलकाता से हेलिकॉप्टर के द्वारा हवाई सर्वे के लिए साथ में निकले. बंगाल दौरे के बाद पीएम मोदी को ओडिशा दौरे पर भी जाना हैं. आपको बता दें कि अम्फान तूफान से अकेले बंगाल में 80 लोगों की जा’न चली गई हैं.

 

वहीं इसी बीच देश भर में कोरोनावायरस से संक्र’मित मरीजों की तादात तेजी से बढती जा रही हैं. पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 6088 नए मामले देखने को मिले है जो अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा हैं. इसके साथ ही देश में कुल सं’क्रमि’तों की संख्या 1 लाख 18 हजार 447 तक पहुंच गई हैं.

वहीं पिछले 24 घंटों में 148 लोग कोरोना से हार गए है इसके साथ ही अब कुल मृ’त’कों की संख्या 3583 हो चुकी हैं. हालांकि भारत को सुकून देने वाली खबर यह है कि कुल मरीजों में से अब तक करीब 40 फीसदी मरीज यानी लगभग 48 हजार लोग ठीक हो कर अपने घर वापस लौट आए हैं. वहीं पिछले 24 घंटे में ही करीब 3131 मरीज हॉस्पिटल्स से डिस्चार्ज किए गए हैं.