इस्लामिक देशों के संगठन ने की भारत के एयर स्ट्राइक पर कड़ी आलोचना, लगो ने कहा सूजी है क्या?

नई दिल्लीः इस्लामिक देशों के संगठन ने पाकिस्तान के आ$तंकवादी ठिकानों पर भारत के एयर स्ट्राइक की निंदा की है. ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन (ओआईसी) ने भारत की ओर से लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) के पार हुए हवाई ह’मले की कड़े शब्दों में निंदा की है. ओआईसी ने एक ट्वीट में लिखा कि इस्लामिक संगठन 26 फरवरी को भारतीय घुसपैठ, हवाई उल्लंघन और चार बम गिराए जाने की कार्रवाई की आलोचना करता है. ओआईसी ने दोनों देशों से तनाव कम करने और ऐसा कोई कदम न उठाने का आग्रह किया है जिससे भारत-पाकिस्तान के इलाके में शांति और सुरक्षा खतरे में पड़ती हो।

ओआईसी ने दोनों पक्षों को जवाबदेही के साथ मौजूदा संकट से निपटने और इसका शांतिपूर्ण समाधान निकालने की अपील की है. अपील में कहा गया है कि बल प्रयोग किए बिना दोनों देश अपने मुद्दे सुलझाएं. पनपे तनाव को कम करने के लिए दोनों देशों के बीच परस्पर बातचीत का सहारा लेने की सलाह दी गई है।

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े आ$तंकी शिविर पर मंगलवार तड़के भारतीय वायुसेना ने हमला किया इन हमलों में 300 से ज्‍यादा आ$तंकियों के मारे जाने की जानकारी है. भारत ने पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्‍मघाती हमले के जवाब में यह कार्रवाई की है।

बीबीसी ऊर्दू की रिपोर्ट के अनुसार, प्रत्‍यक्षदर्शियों के मुताबिक हमले काफी भयानक थे. इनके चलते लोगों की नींद टूट गई. एक के बाद एक पांच धमाके हुए और कई लोग घायल हो गए थे. जाबा टॉप बालाकोट के मोहम्‍मद आदिल ने बीबीसी को बताया कि धमाकों की आवाज इतनी तेज थी जैसे कि कोई जलजला आ गया हो. इसके चलते कोई सो नहीं पाया. बाद में पता चला है कि हवाई हमला हुआ है।