कोरोना सं'कट: पहली बार बीबीसी के 14 रेडियो स्टेशनों से होगी अज़ान और ख़ुतबा. ये है बड़ी वजह

कोरोना सं’कट: पहली बार बीबीसी के 14 रेडियो स्टेशनों से होगी अज़ान और ख़ुतबा. ये है बड़ी वजह

नई दिल्ली: चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को बदलकर रख दिया. इस जा’न ले’वा वायरस के चलते भारत समेत कई दुनिया भर के देशों में लॉकडाउन कर दिया गया है. सड़कें गलियां स्कूल कॉलेज मॉल और सभी धार्मिक स्थल वी’रान हो गए हैं. इसके बावजूद कोरोना वायरस की च’पेट में आने वाले लोगों की संख्या और म’रने वालों का अकड़े थमने का नाम नहीं ले रहा है।

बता दें चीन से शुरू हुए कोरोना वायरस ने एक बार फिर दस्तक दे दी है. 24 घंटे के दौरान 99 नए मामले सामने आए जो हाल के कुछ हफ्तों की तुलना में सबसे ज्यादा है। स्वास्थ्य अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि 63 ऐसे मामले भी सामने आए जिनमें लक्षण नहीं थे जिसके बाद देश में कोविड-19 मरीजों की कुल संख्या 82 हजार हो गई है। चीन से ही इस वै’श्विक महा’मा’री की शुरुआत हुई थी।

कोरोना सं’क्रमण के बढ़ते प्रकोप के बीच चीन के बाद अब अमेरिका इटली ब्रिटेन जर्मनी फ्रांस और भारत जैसे दक्षिण एशियाई देश इस महा’मा’री से जूझ रहे हैं। ब्रिटेन में कोरोना वायरस से अब तक 9 हज़ार लोग हताहत हो चुके हैं जबकि 74 हज़ार से अधिक सं’क्रमित हैं। खुद प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन भी इस महा’मा’री की च’पेट में आ चुके हैं।

वही इस महा’मा’री से जूझ रहे देशो में जर्मन सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. बता दें जर्मनी एक ऐसा देश है जहाँ लाउडस्पीकर पर बेन है लेकिन अति आवश्यक कारणों से ही वहां मंजूरी दी जाती है। ब्रिटेन में कोरोना वायरस के कारण सारी मस्जिदें बंद होने की वजह से बीबीसी रेडियो से पहली बार अज़ान और ख़ुतबा प्रसारण किया जाएगा।

इतना ही नहीं अब ब्रिटेन में हर शुक्रवार को ‘ब्रिटिश समय अनुसार’ 5 बज कर 50 मिनट पर बीबीसी के 14 स्थानीय रेडियो स्टेशनों पर ब्रिटेन के अधिकतर इलाक़े में नमाज़ से पहले अज़ान और ख़ु’तबे सुन सकेंगे।

बीबीसी लोकल रेडियो के डायरेक्टर क्रिस ब्रोन्ज़ ने बताया कि रेडियो का उद्देश्य आम जनता से संपर्क करना है और हमें उम्मीद है कि इस अज़ान से आइसोलेशन के दिनों में मुसलमानों को एकजुट होने का एहसास दिलाने में मदद मिलेगी।

गौरतलब है की कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए 23 मार्च के बाद से सभी धार्मों के उपासना स्थलों को बंद कर दिया गया था और बीबीसी पहले से ही हर रविवार को 39 स्टेशनों से ईसाइयों की उपा’सना का प्रसारण कर रहा है।

Source: arabnews.com

Leave a comment