6 साल की पाकिस्तानी बच्ची के लिये फरिश्ता बने भाजपा सांसद गौतम गंभीर, जानिए पूरा मामला

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज पूर्व क्रिकेटर भारतीय जनता पार्टी के साँसद पाकिस्तान के लिए हम’लावर रुख अपनाने वाले गौतम गंभीर की दरियादिली सामने आई है. दरअसल पाकिस्तान का एक परिवार अपनी 6 साल की बच्ची की हा’र्ट सर्ज’री के लिए भारत आना चाहता था, लेकिन तमाम कोशिसो के बाबजूद भी उस परिवार के लिए भारत आना बहुत मुश्किल हो रहा था तभी मदद के लिए आगे आये गौतम गंभीर ने विदेश मंत्रालय से अनुमति देने की अपील की।

आपको बता दें गौतम गंभीर ने विदेश मंत्रालय को 1 अक्टूबर को एक चिट्ठी लिखी जिसके बाद विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग से इलाज के लिए बच्ची और उसके परिजनों को वीजा देने की बात कही. वही विदेश मंत्री एस. शिवशंकर ने उन्हें जवाब में 9 अक्टूबर को चिट्ठी लिखकर बताया कि पाक स्थित भारतीय उच्चायोग को ओमैमा अली और उनके माता-पिता को वीजा जारी करने के निर्देश दिए गए हैं।

जिसके बाद गौतम गंभीर ने पाकिस्तानी बच्ची और उसके माता-पिता को वीजा देने के लिए विदेश मंत्री एस. जयशंकर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया है. गौतम गंभीर ने शनिवार को ट्वीट कर कहा गंभीर ने लिखा की मुझे पाकिस्तान सरकार, आईएसआई और पाकिस्तान में मौजूद आ#तंकवा’दी संगठ’नों से समस्या है, लेकिन अगर 6 साल की बच्ची का इलाज भारत में हो सकता है तो इससे बेहतर और क्या हो सकता है।

आपको बता दें कि विदेश मंत्री एस. जयशंकर पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के नक्शे कदम पर चल रहे हैं. जिस तरह सुषमा स्वराज लोगों की मदद के लिए हमेशा आगे रहती थीं, उसी तरह एस. जयशंकर भी लोगों की मदद के लिए आगे रहते हैं।