CAB प्रदर्शन: अमेरिका, ब्रिटेन समेत कई देशों के नागरिकों को भारत यात्रा करने पर चेतावनी

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन बिल 2019 बुधवार को राज्यसभा में पारित होते ही देश भर में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हो रहा है। पूर्वोत्तर असम, त्र‍िपुरा, मेघालय आद‍ि राज्‍यों में नागरिकता संशोधन क़ानून को लेकर बड़े पैमाने पर हो रहे विरोध प्रदर्शनों में अब तक तीन लोगों की जा’न जा चुकी है. कई इलाकों में कर्फ्यू है, साथ ही इंटरनेट और मोबाइल सेवाओं पर पाबंदी है। इसी को लेकर कई देशों ने अपने नागरिकों को चेतावनी दी है।

भारत के हालात को देखते हुए अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन, इजरायल, सिंगापुर और कनाडा समेत दुनिया भर के कई देशों ने अपने नागरिकों के लिए यात्रा परामर्श जारी किया है. इन देशों ने कहा है कि अगर उन्हें भारत जाना बहुत जरूरी है तो ही इन राज्यों में न जाएं और सावधानी बरतें। क्योकि भारत के कई राज्यों में हालात सही नहीं है।

भारत में सीएबी के खिलाफ प्रदर्शन अमेरिका, ब्रिटेन समेत कई देशों के नागरिकों को चेतावनी

बता दें प्रदर्शनकारी नागरिकता (संशोधन) कानून को वापस लेने की मांग को लेकर पूर्वोत्तर असम, त्र‍िपुरा, मेघालय आद‍ि राज्‍यों में बड़े पैमाने पर हो रहे विरोध प्रदर्शन हो रहा है। और इस प्रदर्शन में अब तक तीन लोगों की मौ#त हो चुकी है जबकि कई लोग घायल हुए हैं। और कई इलाकों में कर्फ्यू लगाने के साथ इंटरनेट और मोबाइल सेवाओं पर पाबं’दी लगा दी गई है।

वही अमरीकी सरकार ने अपने नागरिकों को भारत में (CAB, 2019) को लेकर जारी विरोध प्रदर्शनों के कारण अमरिकी दूतावास की ओर से एक एडवाइजरी में कहा गया है कि अमरीकी नागरिकों को नागरिकता (संशोधन) कानून बनाए जाने के कारण मीडिया में आ रही विरो’ध और हिं#सा की खबरों के म’द्देनजर सा’वधा’नी बरतनी चाहिए।

अमरीका ने अपने नागरिको को चेताव’नी देते हुए कहा है कि भारत के असम की आधिकारिक यात्रा को अस्थायी रूप से रद्द कर दिया है। एडवाइजरी में कहा गया, ‘इंटरनेट और मोबाइल संचार बाधित है। इस क्षेत्र के विभिन्न हिस्सों में परिवहन प्रभावित हो सकता है। देश के अन्य हिस्सों में भी विरोध प्रदर्शन होने की खबरें हैं।

अमरीकी नागरिकों को आसपास के माहौल के बारे में जागरूक रहने, अपडेट के लिए स्थानीय मीडिया की खबरों पर नजर रखने। व्यक्तिगत सुरक्षा योजनाओं की समीक्षा करने और अपनी सुरक्षा के संबंध में दोस्तों और परिवार को सूचित करने के लिए कहा है।