भाजपा नेता ने 11 वर्षीय बालिका को स्टूडियो में ले जाकर किया ब@लात्कार, आरोपी फरार

मध्य प्रदेश के जिला गुना में राष्ट्रवादी हिंदू महासभा के प्रदेश अध्यक्ष और भाजपा पदाधिकारी बंटी किरार पर पर एक 11 वर्षीय बच्ची के साथ दुष्क@र्म करने के मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है. यह घट’ना 3 दिन पहले की है, आपको बता दें कि जिस युवक पर यह मामला दर्ज हुआ है वह भाजपा का पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के मंडल का अध्यक्ष है. इसका नाम चंद्रप्रकाश किरार उर्फ़ बंटी है. बताया जा रहा है कि आरोपी चंद्रप्रकाश किरार, बंटी ने भार्गव कॉलोनी स्थित स्टूडियो में इन नाबालिग के साथ कुक’र्म किया.

आपको बता दें 17 जून को सोमवार को शाम के समय ये नाबालिग 6 बजे के आसपास उसके स्टूडियो में अपना फोटो उठाने के लिए गयी थी, तभी बंटी किरार उसको स्टूडियो के अंदर वाले रूम में ले गया और वहीं राखी टेबल पर उसको लिटा कर बच्ची के साथ अनैतिक काम कर डाला.

हालांकी नाबालिग ने चिल्लाने की कोशिश की तो इसने उसे डरा धम’काकर चुप करा दिया. इसके बाद नाबालिग अपने घर पहुंची और उसने अपनी माँ को रोते हुए घट’ना की पूरी जानकारी दी.

इसके बाद उस नाबालिग के माता पिता ने सिटी कोतवाली जाकर, उस नाबालिग के साथ हुयी घट’ना की पूरी जानकारी दी. जहाँ बालिका ने भी सिटी कोतवाली में खुद के साथ हई आपबीती बताई. इसके बाद पुलिस ने बंटी के खिलाफ आईपीसी की धारा 37’6 पो’स्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

जानकारी के अनुसार घट’ना के फ़ौरन बाद लड़की की मां अपने कुछ परिजनों और पड़ोसियों के साथ इस आरो’पी के स्टूडियो पर पहुची, लेकिन यह जब तक अपने स्टूडियो से फरार हो चूका था. जिसके बाद गुस्साए लोगों ने उसके स्टूडियो में तोड़ फोड़ कर दी थी.

पुलिस ने पी’ड़ित बालिका का आवेदन लेकर भगाया

बताया जा रहा है की शुरू में इस घट’ना को सुनने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया और दोनों पक्षों को सुनने एवं उनका आवेदन लेने के बाद कोतवाली पुलिस ने अपनी आदत अनुसार उन्हें चलता कर दिया.

फिर इसके बाद जब दुसरे दिन इस घट’ना की सूचना आम लोगों तक हुयी तो बढ़ते तना’व के कारण पुलिस ने भाजपा नेता चंद्रप्रकाश किरार बंटी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 एवं पो’स्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया.

आपको बता दें कि इस 11 साल की नाबालिग साथ दुराचा’र करने के मामले में इसकी गिरफ्तारी की मांग को लेकर भारतीय महिला फेडरेशन ने प्रदर्शन किया था.

थाना प्रभारी अवनीत शर्मा के अनुसार मामला दर्ज होने के बाद से ही उसके छुपे होने के संभावित ठिकानों पर दबि’श दी गई, लेकिन पुलिस के हाथ खाली रहे. उन्होंने आश्वासन दिलाया है की जल्द ही आरो’पी गिरफ्त में होगा.