VIDEO: ब्रिटैन कोर्ट में हारा पाकिस्तान, भारत आएगी हैदराबाद के निज़ाम मी’र अली उस्मान की अरबों की संपत्ति

हैदराबाद के नि’जाम के फंड को लेकर दशकों से चल रहे मामले में ब्रिटेन के एक हाई कोर्ट ने भारत के पक्ष में फैसला सुना दिया है| जिसमें पाकिस्तान को करारे झटके का सामना करना पड़ा है| बता दें कि निजाम के आठवें वंशज मुकर्रम जेह ने 70 सालों से विवा’दाग्रस्त 3 अरब यानी 35 मिलियम पौंड से अधिक रकम का केस का जीत लिया है| जिसको लेकर पाकिस्तान सरकार ने इस रकम पर दावा ठोकते हुए ब्रिटेन की अदालत में 2013 में हैदराबाद के नि’जाम के आठवें वंशज के खिला’फ मामला दर्ज किया था|

बता दें कि पाकिस्तान के लिए यह एक और करारा झटका है, क्योंकि पाकिस्तान विभाज’न के वक्त से ही फौ’री घट’नाक्रम को आधार बना कर इस रकम पर अपना दा’वा ठोकता आ रहा था| जिसके चलते भारत विभाज’न के दौरान निजा’म की लंदन के एक बैंक में जमा रकम को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच मुक’दमा चल रहा था।

आपको बता दें कि कोर्ट ने 70 साल पुराने इस केस में पाकिस्तान को झट’का देते हुए साफ तौर पर कहा कि इस रकम पर भारत और निजाम के उत्तराधिकारियों का हक है। निजाम के वंशज प्रिंस मुकर्रम जाह और उनके छोटे भाई मुफ्फखम जाह इस मुकदमे में भारत सरकार के साथ थे।

जानकारी के लिए बता दें कि देश के विभा’जन के दौरान हैदराबाद के 7वें निजाम मी’र उस्मान अली खान ने लंदन स्थित नेटवेस्ट बैंक में 1,007,940 पाउंड यानी करीब 8 करोड़ 87 लाख रुपये जमा कराए थे।

 

ब्रिटेन के कोर्ट द्वारा पाकिस्तान को एक बार फिर भारत के हाथों शिकस्त का सामना करना पड़ा है। जिसके चलते भारत ने पाकिस्तान को लंदन में कानू’नी तौर पर धूल चटा दी है। भारत पाकिस्तान और हैदराबाद के निजा’म के वंशज के बीच 70 साल पुराने के’स में लंदन के कोर्ट ने फैसला निज़ाम के वंशजों के हक़ में सुनाया दिया है| जिसके चलते निजा’म की दौलत पर हक अब निज़ाम के वंसजों का हो गया है|

Leave a comment