15 दिन में 4 गोल्ड मेडल जीतने वाली हिमा दास ने असम बाढ़ पीड़ितों को दान की अपनी आधी सैलरी, लेकिन मीडिया में जगह नहीं है

नई दिल्ली: भारत की फर्राटा धाविका हिमा दास ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी चमक दिखाते हुए अपने शानदार प्रदर्शन को जारी रखते हुए 15 दिनों के अंदर चौथा स्वर्ण पदक जीत लिया है। उन्होंने चेक गणराज्य में हुए टाबोर एथलेटिक्स टूर्नामेंट में 200 मीटर स्पर्धा का स्वर्ण जीता। हिमा ने बुधवार को हुई रेस को 23 से 25 सेकेंड में पूरा करके गोल्ड जीता। उनकी हमवतन वीके विसमाया 23.43 सेकेंड का समय निकालते हुए दूसरे पायदान पर रही। यह इस सीजन का उनका सबसे बेहतरीन प्रदर्शन है।

हलाकि हिमा दास पिछले कुछ महीनों से अपनी पीठ की समस्या से जूझ रही हैं। असम की हिमा ने 23.97 सेकेंड के साथ पहला स्थान पाया जबकि केरल की धाविका वीके विस्माया ने 24.06 सेकेंड के साथ रजत पदक जीता। वही राष्ट्रीय रिकार्डधारी एथलीट मोहम्मद अनस ने पुरुषों की 200 मीटर स्पर्धा में सोना जीता। अनस ने 21.18 सेकेंड का समय निकाला।

Image Source: Google

आपको बता दें Kladno Athletics Meet में हिस्सा लेने पहुंचीं हिमा दास ने मंगलवार को मुख्यमंत्री राहत कोष में राज्य में बाढ़ के लिए अपनी आधी सैलरी दान कर दी। इसके अलावा उन्होंने ट्वीट कर बड़ी कंपनियों और व्यक्तियों से भी आगे आकर असम बढ़ पीड़ितों के लिए मदद करने की अपील की है।

ब्रह्मपुत्रा नदी के खतरे के निशान से ऊपर बहने के कारण असम के करीब 30 जिलों में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है। इससे 43 लाख लोग प्रभावित हुए है। 80 हजार हेक्टेयर में फैली फसल बर्बाद हो चुकी है।17,000 लोगों को राहत शिविर में रखा गया है। अपने राज्य की ऐसी स्थिति से आहत होकर धाविका हिमा दास ने सराहनीय कदम उठाया है।

Leave a comment