यूपी में हिंदू महासभा का ऑफिस सील, भड़काऊ पोस्ट और आतिशबाजी को लेकर अब तक 7 गिरफ्तार

अयोध्या के राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद के विवा’दित स्थल को लेकर आज जो फैसला आना था, इसके पहले से ही प्रशासन ने सभी को चेता दिया था कि किसी भी तरह की सोशल मीडिया पर आप’त्तिजनक पोस्ट नहीं डाली जय और न ही किसी भी तरह की आतिशबाजी या और अन्य ऐसे कार्य नहीं किए जाएंगे, जिससे कि किसी भी धर्म या समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचे.

अभी-अभी जनसत्ता और पत्रिका की खबर के अनुसार इसी सिलसिले में उत्तर प्रदेश के मेरठ की पुलिस ने अखिल भारतीय हिंदू महासभा के कार्यालय को सील कर दिया है. यहाँ तक कि उसके राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अशोक शर्मा को भी फिलहाल नजरबंद कर लिया गया है. नगर पुलिस अधीक्षक ने बताया की सोशल साइट पर विवा’दित कमेंट करने वालों और आतिशबाजी करने वालों पर कड़ी कार्यवाही की जा रही है.

Merath me giraftar

उत्तर प्रदेश में आतिशबजी करने वाले छह युवकों को, दो अलग-अलग जगह से गिरफ्तार किया गया है. सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर भड़.काऊ पोस्ट डालने को लेकर दोनों के खिला’फ माम’ला दर्ज हुआ है. यह केरल के कोच्चि की घट’ना है जैसा कि पुलिस ने पहले ही लोगों को अल’र्ट कर दिया था कि इस मामले पर सोशल मीडिया ट्विटर और फेसबुक या फिर व्हाट्सएप के अकाउंट पर पैनी निगाह रखी जाएगी.

अगर कोई भी नागरिक, जो चाहे किसी भी धर्म या समुदाय का हो इन नियमों को तोड़ता है तो उसके खिला’फ वैधानिक कार्यवाही की जा सकती है. इधर मेरठ नगर के पुलिस अधीक्षक अखिलेश नारायण ने बताया कि उच्च न्यायालय का फैसला आने के बाद नौचंदी ब्रह्मपुरी में धारा 144 का उल्लं.घन करते हुए आतिशबाजी की गई जिसके चलते यूपी पुलिस ने 6 युवकों को गिरफ्तार किया है.

इसके अलावा लक्ष्मण शर्मा नाम के एक युवक को भी गिरफ्तार किया गया है. लक्षमण ने फेसबुक पर आप’त्तिजनक पोस्ट डाली थी, जिसके बाद उसको लेकर बहस शुरू हो चुकी थी. और शिकायत के बाद लक्ष्मण शर्मा को गिरफ्ता’र किया गया.

लक्ष्मण शर्मा मूल रूप से मथुरा में थाना के ग्राम भगवान गढ़ी का रहने वाला है. इसके खिला’फ आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. हम आप लोगों से अपील करते हैं कि सोशल मीडिया पर किसी भी तरह से दूसरों को ठेस पहुंचाने वाली पोस्ट कमेंट ना करें.

उच्चतम न्यायालय का फैसला सभी ने अपने सर आंखों पर लिया है, इससे किसी को भी पहुंचे ऐसा प्रशासन का प्रयास है. लेकिन कुछ असा’माजिक तत्व आ’ग में घी डालने का काम करते हैं. लेकिन पुलिस को इन लोगों से निपटना भी अच्छी तरह से आता है.

साभार: जनसत्ता