ट्विटर पर ट्रेंड हुआ ‘हिन्दू-मुस्लि’म भाई भाई’- ट्विटर के इतिहास में सबसे पसंदीदा ट्रेंड जो लोगों को भा रहा है

दोस्तों आज सुबह से ही लोगों में उत्सुकता थी कि अयोध्या मामले पर क्या फैसला आएगा. फिलहाल सुप्रीम कोर्ट के 5 जजों की बेंच ने एक ऐतिहासिक फैसला सुना दिया है, जो लोगों को बेहद पसंद आ रहा है. हालांकि कुछ लोग इस फैसले के पक्ष में नहीं हैं, लोगों का क्या है पांचों उंगलियां कभी भी एक बराबर नहीं होतीं. जहां 10 लोग राजी होंगे वहां 2 लोग उनके विपक्ष में जरूर खड़े होते हैं.

खैर यह तो थी राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद के फैसले की बात, लेकिन आज सुबह से ही सोशल मीडिया के सबसे बड़े प्लेटफार्म ट्विटर पर कुछ ऐसा देखने को मिला, जिनकी ट्वीट पढ़कर लोगों का दिल खुशी से झूम उठा. कुछ लोगों का तो यहां तक कहना है कि यह उनकी जिंदगी का ट्विटर का अब तक का सबसे बढ़िया ट्रेंड रहा है.

Twitter Trend

दोस्तों आज सुबह से ही ट्विटर पर हिंदू मुस्लि’म भाई भाई #HinduMuslimBhaiBhai का ट्रेंड टॉप पर चल रहा है. अभी पोस्ट लिखे जाने तक शाम होने को है और यह ट्विटर पर अभी भी ट्रेंड कर रहा है, और उम्मीद है कि यह आज रात तक ऐसे ही ट्रेंड करता रहेगा.

आपको बता दें दोस्तों की ये ट्रेंड को सबसे पहले ट्विटर पर ऑफिशियल पीइंग ह्यूमन नाम के ट्विटर हेंडल से शुरू हुआ था, और देखते ही देखतेये ट्विटर पर ट्रेंडिंग में आ गया. देखें कुछ लोगों के अच्छे ट्वीट.

समस्त देशवासियों से अपील है कि नफर’त की राजनीति करने वाले लोगों और TRP की होड़ में लगी मीडिया चैनलों की बातों में न आएं। हर स्थिति में सामाजिक सौहार्द एवं भाईचारा बनाए रखें 🙏 लोकसमता हमारे देश की पूंजी है, इसलिए अफ’वाहों से दूर रहें, न ड’रें, ना डराएं।

हिंदु कहुॅं तो मैं नहीं मुसल’मान भी नाहि पंच तत्व का पूतला गैबी खेले माहि.. कबीर मैं न तो हिन्दु’ हूॅ अथवा नहीं मुसलमान। इस पाॅंच तत्व के शरीर में बसने वाली आत्मा न तो हिन्दुहै और न हीं मुसल’मान

मैं मुस्लिम हूँ, तू हिन्दू है, हैं दोनों इंसान, ला मैं तेरी गीता पढ़ लूँ, तू पढ ले कुरान, अपने तो दिल में है, बस एक ही अरमान, एक थाली में खाना खाये सारा हिन्दुस्तान।

जब मुस्लिम को मस्जिद में राम नजर आए जब हिन्दू को मंदिर रहमान नजर आए सूरत ही बदल जाएगी इस दुनिया की जब इंसान को इंसान में इंसान नजर आए.

साथ जीने की विरासत ही सँभाली जाए, और मुहब्बत की रिवायत भी बचा ली जाए, फ़ैसला जो भी हो बस इतना सावधान रहें, मज़हबी आग पर नफ़र’त न उबाली जाए..!

दोस्तों इस तरह से हजारों की तादाद में सोशल मीडिया पर आपसी भाईचारे के लिए लोग अपने-अपने विचार रख रहे हैं. ये वाकई में काबिलेतारीफ़ कदम है. आज इस देश के लोगों ने दिखा दिया की असली हिंदुस्तान कैसा है, वो नहीं जो तुम्हें इस देश का दलाल मीडिया दिखाता है.