विंग कमांडर अभिनंदन को झूठ बोलकर पकड़ा गया था, पाकिस्तानी सेना और अभिनंदन की पहली बातचीत..

14 फरवरी को पुलवामा में हुए आ$तंकी ह’मले की जवाबी कार्रवाई के तौर पर भारतीय वायु सेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच इस वक्त तनाव काफी बढ़ गया है। भारतीय विदेश मंत्रालय के अनुसार यह हमला ख़ैबर पख़्तूनख़्वान प्रांत में बालाकोट के जंगलों में जैश के एक कैंप पर किया गया है जिसमें कई आ$तंकियों के ढेर होने का अनुमान लगाया जा रहा है. भारतीय वायुसेना के अनुसार भारत के ल’ड़ाकू विमानों ने मंगलवार तड़के 3:30 मिनट पर जैश के कैंप पर यह ह’मला किया।

बुधवार (27 फरवरी) शाम भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस बात की पुष्टि की है कि भारत का एक मिग-21 लड़ाकू विमान भी क्षतिग्रस्त हुआ और एक पायलट भी ला’पता है। पाकिस्तान में गिरे मिग 21 के लड़ाकू पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को पाकिस्तानी सेना ने पकड़ लिया। भारतीय वायुसेना के जांबाज़ विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को पाकिस्तानियों ने झूठ बोलकर पकड़ा था।

इसका खुलासा खुद पाकिस्तान के ही एक चश्मदीद ने किया। पाकिस्तानी अखबार द डॉन के मुताबिक, चश्मदीद ने बताया कि भारतीय पायलट ने जमीन पर गिरते ही पूछा था, की मैं कहां हूं? इस दौरान वह मौजूद पाकिस्तानी लड़कों ने उनसे झूठ बोलते हुए कहा कि यह इंडिया है। इसके बाद अभिनंदन को पकड़ लिया गया।

आपको बता दें कि बुधवार (27 फरवरी) को पाकिस्तानी लड़ाकू विमान भारतीय हवाई क्षेत्र में घुसे और ब’म गिराए जिनको खदेड़ने के लिए भारतीय एयर क्राफ्ट मिग 21 ने उड़ान भरी जिसको विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान उड़ा रहे थे और पाक ल’ड़ाकू विमान का पीछा किया. एक F16 मार भी गिराया पर वह इस दौरान एलओसी के पार चले गए जहां पाकिस्तानियों ने उनका मिग 21 मा’र गिराया।

कैसे फंस गए पायलट अभिनंदन

LOC से करीबन 7 किलोमीटर दूर POK में मुजफ्फराबाद स्थित होरा गांव में रहने वाले मोहम्मद रज्जाक चौधरी इस पूरी घटना के चश्मदीद हैं। उन्होंने बताया, बुधवार सुबह करीब 8:45 बजे मैंने ध’माके की आवाज सुनी और धुआं देखा। मुझे लगा कि कुत्तों को भगाने के लिए यह ध’माका किया गया है। उसी दौरान 2 एयरक्राफ्ट में आग लगी नजर आई, जिनमें से एक एलओसी के पास गिर गया।

वहीं आ’ग की लपटों से घिरा दूसरा विमान तेजी से आगे आ गया। इस विमान का मलबा मेरे घर से करीब एक किलोमीटर दूर गिरा। इसके बाद मैंने एक पैराशूट मैदान में उतरते देखा, जिसको देख में समझ गया की ये विमान का पायलट है।

मोहम्मद रज्जाक के मुताबिक, मैंने तुरंत फोन करके मामले की जानकारी द डॉन अखबार को दी। साथ ही, गांव के लड़कों से कहा कि पाकिस्तानी सेना के आने तक वे इस विमान के मलबे के पास न जाएं। इस दौरान उन्होंने पायलट को पकड़ लिया। रज्जाक ने बताया, पायलट ने लड़कों से पूछा कि मैं कहां हूं। उनमें से एक ने चालाकी दिखाते हुए जवाब दिया कि यह भारत है।

इसके बाद पायलट जोर-जोर से भारत समर्थित नारे लगाने सुरु कर दिए। उसने लड़कों से दोबारा पूछा कि यह भारत में कौन-सी जगह है? ऐसे में जवाब मिला कि यह किला है। पायलट ने बताया कि उसकी कमर में चोट लगी है और पीने के लिए पानी मांगा।

अभिनंदन के साथ हुआ ऐसा बर्ताव

रज्जाक के मुताबिक, भारत समर्थित नारे सुनकर कुछ पाकिस्तानी लड़के बहुत नाराज हो गए और पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने लगे। यह सुनकर भारतीय पायलट ने अपनी सर्विस पि’स्टल निकाली। वहां से दूर भागना शुरू कर दिया। लेकिन ऐसे में पाकिस्तानी लड़कों ने उन पर पत्थराव किया और पकड़ लिया। इसके बाद अभिनंदन के साथ मा’रपीट की गई। फिर पाकिस्तानी सेना के आने के बाद अभिनंदन को गावं वालो से छुड़ा कर अपने साथ ले गए।