CAA के खिलाफ अब सैकड़ो हिंदू पुजारी उतरे सड़को पर, कहा- धर्म के आधार पर देश को बाँटा जा रहा है, मोदी...

CAA के खिलाफ अब सैकड़ो हिंदू पुजारी उतरे सड़को पर, कहा- धर्म के आधार पर देश को बाँटा जा रहा है, मोदी…

नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ इस वक्त देशभर के कई राज्यों में बड़ी संख्या में लोग सड़को पर उतर चुके हैं। और CAA और NRC के विरोध में जमकर आवाज उठा रहे हैं। (CAA) को लेकर किए जा रहे प्रदर्शनों में बॉलीवुड की भी कई हस्तियां सामने आई है। बता दें फिल्मकार अनुराग कश्यप और अभिनेत्री स्वरा भास्कर मो. ज़ीशान अयूब, सुशांत सिंह, परिणीति चोपड़ा के साथ अब रैपर रफ्तार ने भी सीएए के विरोध में अपनी आवाज बुलंद की है।

जहाँ नागरिकता कानून के खिलाफ देश भर में मोदी सरकार को कड़ी परीक्षा से गुजरनी पड़ रही है। वही अब हिंदू पुजारियों ने भी नागरिकता कानून के खिलाफ सड़क पर उतर कर केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। बता दें पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में सैकड़ो पुजारियों ने इकट्ठा होकर मोदी सरकार की कड़ी निंदा की है।

बता दें कोलकाता की सड़को पर सैकड़ो हिन्दू पुजारि और साधुओं ने नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन किया। यह विरोध प्रदर्शन पश्चिम बंग सनातन ब्राह्मण न्यास के बैनर तले हुआ इस प्रदर्शन में मौजूद साधु-संत ने महात्मा गाँधी की प्रीतिमा के पास एकत्रित होकर सीएए और एनआरसी के विरोध में जमकर नारेबाज़ी की।

नवोदय टाइम्स में छपी खबर के अनुसार, पश्चिम बंग सनातन ब्राह्मण न्यास के बैनर तले सैकड़ो पुजारीयो ने मेयो रोड पर महात्मा गांधी की प्रतिमा के आसपास एकत्रित हुए और उन्होंने सीएए और एनआरसी के खिलाफ नारे लगाए। उन्होंने राज्य में विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिं’सा के बाद शांति बहाली की मांग की।

बता दें सनातन ब्राह्मण न्यास के महासचिव श्रीधर मिश्र ने कहा, यह बेहद चिं’ताजन’क है कि धर्म के आधार पर देश को बांटने की कोशिश की जा रही है। सीएए और एनआरसी का लक्ष्य एक विशेष समुदाय के लोगों को अलग-थलग करना है। यदि इस तरह से एक समुदाय को निशाना बनाया जाएगा तो एक दिन इसका असर हम पर भी पड़ेगा।

वही तृणमूल कांग्रेस के विधायक राजीव बनर्जी ने कहा कि पुजारियों ने सड़कों पर निकलकर सीएए और एनआरसी का विरोध किया। उन्होंने कहा कि धर्म के आधार पर एक विशेष समुदाय को लक्षित कर केंद्र इस प्रकार के कठोर कदम नहीं उठा सकता।

Leave a comment