तुर्की राष्ट्रपती एर्दोगान भावुक हुए, कही ऐसी बात की दुनियाभर के मुसलमानों का दिल जीत लिया

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तय्यब एर्दोगान ने बहुत ही कम समय में दुनिया भर में अपनी खास पहचान बना ली है. एर्दोगान दुनिया के एक पहले ऐसे मुस्लिम राष्ट्रपति है जिन्होंने अंतररास्ट्रीय स्तर पर इतनी ख्याति प्राप्त की है. तुर्की राष्ट्रपति एर्दोगान हमेशा से ही खुलकर मुस्लिमों का साथ देते रहे है यही कारण है कि उन्हें कई लोग मुस्लिमों का खलीफा भी कहते है. दुनिया के किसी भी कोने पर जब भी मुसलमानों को संकट आता है तो वह एर्दोगान ही होते है जो सबसे पहले मुस्लिमों के साथ खड़े हुए नजर आते है.

एर्दोगान मुस्लिमों की हर संभव मदद के लिए आगे रहते है फिर चाहे बात रोहिंग्या मुसलमान हो या फिर बंगलादेशी मुसलमानों या फिर फिलिस्तीनी मुसलमानों की एर्दोगान हमेशा सबकी मदद के लिए आगे रहते है. अपनी इसी अच्छाई को एर्दोगान ने एक बार फिर से दिखाया है.

Image Source: Google

तुर्की राष्ट्रपति तय्यब एर्दोगन ने गुरूवार को कहा कि उनका देश किसी भी इज’रायली हम’ले के खिलाफ मजबूती के साथ अल-अक्सा मस्जिद के लिए खड़ा होगा है. स्थानीय मीडिया ने बताया कि इजरा’यल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को अत्या’चारी जो बच्चों का नरसंहा’र करने वाला बताया है.

मिडिल ईस्ट मॉनिटर के अनुसार अंकारा में नए सार्वजनिक सेवा कार्यक्रमों के उद्घाटन के दौरान बोलते हुए एर्दोगन ने कहा कि तुर्की अल-अक्सा मस्जिद के सामने आने वाले खतरों को लेकर चुप नहीं बैठेगा फिर चाहे दुनिया कुछ भी करें लेकिन तुर्की किसी की नहीं सुनेगा.

Image Source: Google

तुर्की राष्ट्रपति ने कहा कि जब तक कि पवित्र शहर को इस्लामी दुनिया के लिए उपयुक्त नहीं माना जाएगा तब तक वह यरूशलेम के लिए अपना संघर्ष जारी रखेंगे. साथ ही उन्होंने चेतावनी दी कि उनका देश अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के सामने अल-अक्सा मस्जिद पर अपनी आक्रामकता से इजराइल को दंडित करने के लिए आह्वान करेगा.

वहीं एर्दोगान और तुर्की के खिलाफ इजराइली पीएम नेतन्याहू के अपमान भरे बयान का जवाब देते हुए एर्दोगन ने कहा कि हे नेतन्याहू, खुद व्यवहार करो. आप एक अत्या’चारी हैं, आप एक ऐसे अत्या’चारी हैं जिन्होंने सात वर्षीय फिलिस्तीनी बच्चों का नरसं’हार किया है.