VIDEO: सऊदी अरब क्राउन प्रिंस के कारण अमरीका गए इमरान ख़ान को नहीं मिली इज़्ज़त

वाशिंगटन: अंतरराष्ट्रीय मंच पर एकबार फिर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को बेइज़्ज़ती का सामना करना पड़ा। दरअसल इमरान खान तीन दिवसीय आधिकारिक यात्रा पर अमेरिका पहुंचे हैं। लेकिन एयरपोर्ट पर उनकी अगवानी के लिए अमेरिकी प्रशासन की तरफ से कोई बड़ा अधिकारी नहीं पहुंचा। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और पीएम इमरान खान को मेट्रो में बैठकर होटल जाना पड़ा।

बता दें पाकिस्तान में छपने वाले उर्दू अख़बारों में इस हफ़्ते इमरान ख़ान की अमरीका यात्रा हाफ़िज़ सईद की गिरफ़्तारी और कुलभूषण जाधव मामले की आईसीजे में सुनवाई से जुड़ी ख़बरें सुर्ख़ियों में रहीं. सबसे पहले बात पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान की अमरीका यात्रा की इमरान ख़ान तीन दिनों के अमरीकी दौरे पर रवाना हो गए हैं. अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप से उनकी मुलाक़ात मंगलवार को होना है।

Image Source: Google

पाकिस्तानी उर्दू अख़बार लिखता है कि इमरान ख़ान की अमरीका यात्रा कई महीनों की राजनयिक कोशिशों का नतीजा है. लेकिन इसमें सबसे अहम किरदार सऊदी अरब के राजकुमार और सऊदी राजगद्दी के वारिस मोहम्मद बिन सलमान का है। अख़बार के मुताबिक एमबीएस ने ट्रंप के दामाद के ज़रिए ट्रंप की तरफ़ से इमरान ख़ान को अमरीका आने का दावतनामा भिजवाया।

बैक चैनल डिप्लोमेसी में शामिल एक उच्च अधिकारी ने अपना नाम गुप्त रखे जाने की शर्त पर अख़बार एक्सप्रेस से कहा कि इमरान ख़ान राष्ट्रपति ट्रंप के साथ अकेले मिलना चाहते थे ताकि वो उन ग़लतफ़हमियों को दूर कर सकें जो इस क्षेत्र में पाकिस्तान की भूमिका को लेकर ट्रंप के ज़ेहन में हो सकती थीं लेकिन, दोनों देशों के बीच ख़राब संबंध के कारण अमरीकी प्रशासन तैय्यर नहीं हुआ। शयद इसी से नाराज़ होकर उन्हें कोई भी रिसिब करने नहीं आया।

 

वही फवाद रहमान नामक ब्लॉगर ने वीडियो के साथ ट्विट किया है कि अमेरिका में इमरान खान को रिसीव करने कोई अमेरिकी अधिकारी मौजूद नहीं था। बता दें कि कल व्हाइट हाउस में राष्ट्रपति ट्रंप से इमरान खान की मुलाकात होगी।