विडियो: दुनिया की सबसे महँगी इमारतों की लिस्ट में, मस्जिद अल हरम अव्वल नंबर पर आई

विडियो: दुनिया की सबसे महँगी इमारतों की लिस्ट में, मस्जिद अल हरम अव्वल नंबर पर आई

दुनिया में कई सारे पर्यटक स्थल और धार्मिक स्थल हैं जिनको देखने के लिए हम जाते हैं वहाँ घुमते हैं और अजूबा व्यक्त करते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनिया में कई ऐसे भी स्थल और इमारात हैं जिनको बनाना कोई हसी खेल नहीं था| यह इमारात इतने लागत के साथ बानी हैं की आज के ज़माने में भी इनको बनाना किसी एक के बास्की बात नहीं| जी हाँ आज हम बात करने जा रहे हैं ऐसे ही एक टॉपिक पर जिसमे हम आपको बताएँगे दुनिया की पांच सबसे महंगी इमारतों के बारे में जिनको बनाना आज के दौर में भी हर किसी के बस की बात नहीं|

दुनिया की सबसे महंगी इमारतों के एक सर्वे के मुताबिक़, दुनिया की सबसे महंगी इमारतों में मस्जिद अल हरम को पहला स्थान प्राप्त हुआ हैं| एक रिपोर्ट के मुताबिक़ आपको बता दें कि उस दौर में मस्जिद अल हरम को बनाने में 600 लाख करोड़ रुपए यानी 100 बिलियन डॉलर से भी ज्यादा का खर्च हुआ था|

मस्जिद अल हरम इस्लामिक मान्यताओं के मुताबिक़ मु’सलमा’नों के लिए सबसे पवित्र स्थल हैं और इस मस्जिद में ही पवित्र काबा स्थित हैं| यह मस्जि’द सऊदी अरब के मक्का में स्थित है और यहीं पर मस्जिद में हज अदा किया जाता हैं| दुनिया की सबसे बड़ी इस मस्जिद में एक साथ 80 लाख लोग आ सकते हैं और नमाज़ अदा यानी ईश्वर की प्रार्थना कर सकते हैं|

इसी के चलते दुसरे स्थान पर अबराज अल बेत है और ये भी सऊदी अरब में स्थित है| बता दें कि अबरा’ज अल बेत इमारत को बनाने में लगभग 1 लाख करोड़ रुपए का खर्च आया था| जानकारी के लिए बता दें कि अबराज अल बेत को मक्का रॉयल क्लॉक टावर होटल के नाम से भी जाना जाता हैं| ये बिल्डिंग भी मक्का में स्थित हैं और काबा मस्जिद अल हरम के नजदीक हैं|

इसके बाद तीसरे स्थान पर सिंगापुर का रि‍जॉर्ट्स वर्ल्‍ड सेंटोस हैं और इस रिजॉर्ट को बनाने में लगभग 44 हजार करोड़ रुपए का खर्च आया था|

वहीँ चौथे स्थान पर भी सिंगापुर की ही इमारत मरि‍ना बे सेंड्स रिजॉर्ट हैं| इस इमारत को बनाने में लगभग 37 हजार करोड़ रुपए का खर्च आया था|

पांच में से आखिर और पाँचवे स्थान पर लॉस वेगस स्थित द कॉस्मोपॉलिटिन होटल है जो हॉलीवुड की हस्तियों का मनपसंद होटल हैं| बता दें कि इस इमारत को बनाने में लगभग 26 हजार करोड़ रुपए का खर्च आया था|

Leave a comment