IPS अधिकारी अब्दुर रहमान ने नागरिकता बिल के विरो’ध में दिया इस्तीफा, कहा अब मेरे ज़मीर ने…

गृहमंत्री अमित शाह ने, विधानसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पेश किया था. जिसके बाद वह लोकसभा में पास हो गया था. इसके बाद आज राज्यसभा में भी इस नागरिकता संशोधन विधेयक को मंजूरी मिल गई है, हालांकि इस दौरान काफी हंगामा भी हुआ और शिवसेना ने भी इसका जमकर विरो’ध किया. लेकिन बावजूद उसके इस बिल को 125 वोट मिले जिसके साथ ही यह बिल दोनों सदन में पास हो चुका है.

हालांकि इस बिल का पहले से ही काफी विरोध चल रहा है, इस बिल को लेकर 727 नामचीन हस्तियों ने भी सरकार को चिट्ठी लिखी. जिनमें जावेद अख्तर, नसीरुद्दीन शाह जैसी तमाम बड़ी हस्तियां शामिल है. इसके अलावा कल लगभग 1000 वैज्ञानिकों और स्कॉलर्स ने भी इस बिल को नागरिकों के मौलिक अधिकारों का हनन बताकर इसका विरो’ध किया था.

IPS Abdurr Rehman

इसके अलावा कई और लोग भी, इसको संविधान के खिला’फ बताकर विरो’ध कर चुके हैं. आज देर शाम जब इस नागरिकता संशोधन विधेयक को राज्यसभा में मंजूरी मिली, इसके बाद से ही सिटीजन अमेंडमेंट बिल के विरोध में आईपीएस अधिकारी अब्दुल रहमान ने इस बिल के खिलाफ अपनी नाराजगी जताते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया.

इसके साथ ही उन्होंने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर भी ट्वीट कर दिया. आईपीएस अब्दुल रहमान ने ट्वीट करते हुए लिखा कि मैं इस नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 के विरुद्ध हूं, और मैं इस विधेयक की निंदा करता हूं. जिसके चलते मैंने कल से कार्यालय में उपस्थित ना होने का फैसला लिया है. और अंततः मैं अपनी सेवा को छोड़ रहा हूं.

आईपीएस अब्दुल रहमान के इस ट्वीट के बाद काफी खलबली बची हुई है, अब तक 1400 लोगों से भी ज्यादा लोग उनके इस ट्वीट को retweet कर चुके हैं. फिलहाल अब देखना है कि इनके समर्थन में और कौन-कौन आता है.

लेकिन अभी और ऐसे न जाने कितने अधिकारीयों और कर्मचारियों की नाराजगी सरकार को देखने को मिलेगी, यह कह नहीं सकते. क्योंकि इस राह पर चलना आसान नहीं है, सरकार को इस बिल को पास करने के बाद अभी और भी लोगों का विरो’ध झेलना पड़ सकता है.