JNU हिं’सा: टुकड़े-टुकड़े गैं’ग को जवाब देने का वक़्त आ गया है- शाह का पुराना बयान

नई दिल्लीः देश की राजधानी दिल्ली में जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) परिसर में रविवार (5 जनवरी) की शाम अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के छात्र नेताओं और वा’मपं’थी छा’त्रों के बीच हुई हिं’सक झड़प में जेएनयूएसयू की अध्यक्ष ऐशे घोष सहित कई अन्य विद्यार्थी बुरी तरह से घा’यल हो गए। मा’रपी’ट में घोष को बहुत चोटें आई हैं, हम’लाव’रों ने टीचरों को भी नहीं छोड़ा।

जेएनयू परिसर में रविवार शाम उस वक्त हिं’सा भड़क गई जब रॉ’ड, हॉकी, ला’ठियों से लैस कुछ नकाबपोश गुं’डों ने छात्रों तथा शिक्षकों पर जमकर ह’म’ला बोल दिया, जेएनयू परिसर में संपत्ति को नुकसान पहुंचाया जिसके बाद प्रशासन को पुलिस को बुलाना पड़ा। ह’मले में जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आईशी घोष सहित कम से कम 30 लोग घा’यल हो गए।

आपको बता दें जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय में हिं’सा के बाद सोशल मीडिया पर भी बबाल मचा हुआ है सोशल मीडिया पर #jnuviolence और #JNUattack ट्रेंड कर रहा है। और इसी के साथ गृहमंत्री अमित शाह का पुराना बयान टुकड़े-टुकड़े गैं’ग को दं’ड देने का वक्त आ गया है’ भी बहुत तेजी से शेयर किया जा रहा है।

वही एक टि्वटर यूजर खुर्शीद अहमद @KhursheedAhmedA ने एक हाल ही का अखबार में छपे अमित शाह के बयान को शेयर करते हुए लिखा, क्या गृहमंत्री अमित शाह अपने पद पर बने रहने के लायक हैं? जेएनयू में इस अशांति के लिए वे पूरी तरह से जिम्मेदार है।

बता दें गृहमंत्री अमित शाह ने विपक्ष पर नागरिकता कानून को लेकर भ्रम फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा था की दिल्ली की जनता को गुमराह कर माहौल बिगाड़ा जा रहा है। अब टुकड़े-टुकड़े गैं’ग को जवाब देने का वक्त आ गया है। दिल्लीवासियों को उन्हें सजा देनी चाहिए।

वही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घ’टना पर स्तब्धता जताते हुए कहा कि अगर विश्वविद्यालयों के अंदर ही छात्र सुरक्षित नहीं रहेंगे तो देश प्रगति कैसे करेगा। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा की उपराज्यपाल से बात की और उनसे अनुरोध किया कि व्यवस्था बनाये रखने के लिए पुलिस को निर्देश दें।

इस मामले पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने (जेएनयू) में रविवार रात हुई हिं’सा पर निराशा जाहिर की और कहा कि यह उस डर को दिखाती है जो ‘हमारे देश को नियंत्रित कर रही फासीवादी ताकतों को छात्रों से लगता है।

राहुल गांधी ने ट्वीट किया नकाबपोश लोगों द्वारा जेएनयू छात्रों और शिक्षकों पर किया गया नृशंस ह’म’ला चौं’काने वाला है जिसमें कई गं’भीर रूप से घा’यल हो गए हैं। हमारे देश को नियंत्रित कर रही फासीवा’दी ताकतें, बहादुर विद्यार्थियों की आवाज से ड’रती हैं। जेएनयू में आज हुई हिं’सा उस डर को दर्शाती है।