झारखंड बीजेपी ने जारी की 52 उम्मीदवारों की सूची, कैंडिडेट लिस्ट में भरे पड़े हैं भ्रष्ट, 130 करोड़ के स्कैम के आरोपी भी शामिल

झारखंड: आगामी विधानसभा चुनाव के लिए राज्य की 81 सीटों में से बीजेपी ने 52 सीटों के लिए अपने उम्मीदवार के नाम का ऐलान कर दिया है। दिल्ली में आयोजित कोर कमेटी की बैठक के बाद इन उम्मीदवारों के नाम ऐलान किया गया है। बैठक के बाद भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा की अगुवाई में प्रेस कॉन्फ्रेंस हुई। जिसमें 52 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया गया। इसमें सबसे पहला नाम झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास का है जो कि जमशेदपुर ईस्ट विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे।

आपको बता दें भाजपा का स्टैंड भ्रष्टाचार विरोधी पार्टी का रहा है, लेकिन झारखंड में 52 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट में कई ऐसे भी उम्मीदवारों के नाम है, जो करोड़ों रुपए के घोटाले में आरोपी हैं। लिस्ट में सबसे चौंकाने वाला नाम भानु प्रताप शाही का है, जो कि मधु कोड़ा सरकार में हुए 130 करोड़ रुपए के दवाई घोटाले में आरोपी हैं।

बता दें मधु कोड़ा सरकार में भानु प्रताप शाही कैबिनेट में स्वास्थ्य मंत्री थे। इस घा’टोले में सीबीआई और ईडी की चार्जशीट में शाही का भी नाम है। यह घोटा’ला नेशनल रुरल हेल्थ मिशन के तहत हुआ था। दरअसल नियमों के अनुसार, नेशनल हेल्थ रुरल मिशन के तहत सरकार सार्वजनिक क्षेत्र की दवाई कंपनियों से ही दवाई खरीद सकती है, लेकिन झारखंड की मधु कोड़ा सरकार में नियमों की ध’ज्जि’यां उड़ाते हुए निजी सेक्टर की कंपनियों से महंगे दामों में मेडिसिन खरीदी थी।

वही इस घा’टोले के चलते भानु प्रताप शाही को साल 2011 में गिरफ्तार कर लिए गया था। इसके बाद साल 2013 से वह जमानत पर बाहर हैं। उल्लेखनीय है कि भानु प्रताप शाही 4000 करोड़ रुपए के एक अन्य भ्र’ष्टाचा’र और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में भी आरोपी हैं। साल 2014 में ईडी ने भानु प्रताप शाही की 7.98 करोड़ रुपए की संपत्ति प्रीवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत जब्त भी की थी।

वहीं दूसरी तरफ पार्टी ने वरिष्ठ नेता सरयू राय को टिकट नहीं दिया है। सरयू राय झारखंड में पार्टी के बड़े चेहरों में शुमार हैं। ऐसे में उनका टिकट कटने से लोग हैरान हैं। एनडीटीवी ने पार्टी सूत्रों के हवाले से बताया है कि, सरयू राय सीएम रघुबर दास के खिला’फ काफी मुखर रहे हैं। इसके साथ ही सरयू राय कई बार कैबिनेट बैठकों से भी नदारद रहे हैं।

आपको बता दें झारखंड में भाजपा आजसू के साथ मिलकर चुनाव मैदान में उतर रही है। हालांकि दोनों पार्टियों के बीच सीटों के बंटवारे पर अभी सहमति नहीं बन पायी है। राज्य की 81 विधानसभा सीटों में से भाजपा ने 65 सीटों पर जीत दर्ज करने का लक्ष्य तय किया था। बीते विधानसभा चुनावों में भाजपा ने झारखंड में 37 सीटों पर चुनाव जीता था और कुछ सहयोगी पार्टियों के साथ मिलकर राज्य में सरकार बनायी थी।