पत्रकारों को फटकार लगते हुए कमलेश तिवारी की मां ने खोला बड़ा राज, कहा- अगर योगी सरकार न करती यह काम तो…

सीतापुर: उत्तर प्रदेश पुलिस की विशेष जांच टीम (एसआईटी) हिंदूवा’दी नेता कमलेश तिवारी के काति’लों के और करीब पहुंच गई है. अन्य एजेंसियों के साथ काम कर रहे स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने एक इनोवा कार जब्त की है. जिसको लेकर बताया जा रहा है की लखीमपुर में पलिया से शाहजहांपुर तक जाने के लिए इसे बुक किया था. कार के ड्राइवर को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया गया है।

वही कमलेश तिवारी के ह’त्याकां’ड के बाद पीड़ि’त परिवार ने सीएम योगी से मुलाकात की सीएम से मुलाकात के बाद सीतापुर पहुंची कमलेश की मां ने बड़ा राज खोलते हुए कहा है की सीएम योगी से मिलकर उनकी बातों से संतुष्ट नहीं है। उन्होंने कहा कि हिन्दू धर्म में 13 दिनों तक घर से बाहर नही निकला जाता हैं लेकिन सीएम के आदेश पर ही पुलिस जबरन उन्हें और उनके परिवार को लखनऊ लेकर चली गयी।

पुलिस द्वारा जबरन पीड़ित परिवार को सीएम आवास ले जाने के चलते कमलेश की माँ इस कृत्य से काफी आहत हैं और सीएम के प्रति काफी आक्रोश हैं। सीएम से मुलाकात के बाद मां और परिजन कमलेश तिवारी के पैतृक गांव वापस पहुंचे तो मुलाकात के बाद काफी गुस्सा दिखा।

कमलेश तिवारी की मां कुसुम तिवारी ने कहा की वह सीएम से मुलाकात से संतुष्ट नहीं हैं और कहा कि सीएम के हाव भाव भी उनके हिसाब से नही थे इसलिए वह संतुष्ट नही हैं। उनका कहना हैं कि हिन्दू धर्म मे 13 दिन तक कोई बाहर नही जाता हैं लेकिन सीएम से मिलने के पुलिस लगातार उन पर दबाव बनाती रही थी जिसके उपरांत वह दबाव में आकर लखनऊ गए।

आपको बता दें सोमवार को कुसुमा देवी कमलेश तिवारी की अस्थियों को गंगा में विसर्जित करने वाराणसी के दशाश्वमेध घाट पहुंची थीं। इस दौरान वहां मीडियाकर्मी भी पहुंच गए और उनसे कमलेश की ह’त्या को लेकर सवाल करने लगे। तभी एक पत्रकार ने उनसे ये पूछ लिया कि आप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र आई हैं, यहां आप कुछ कहना चाहेंगी?

पत्रकार के इस सवाल पर कमलेश तिवारी की माँ भड़’क उठी उन्होंने कहा कि, अरे मोदी क्या शंकर जी हैं। हम मोदी के दरबार में नहीं आये भोले के दरबार में आए हैं। मोदी भगवान हैं क्या? मोदी जी-मोदी जी लगा रखा है, हम मोदी जी संतु’ष्ट ही नहीं हैं।