केजरीवाल सरकार ने बढ़ाया इमामों का वेतन, अब इतने हज़ार रुपए प्रतिमाह मिलेंगे

आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बड़ा ऐलान करते हुए बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी के इमामों और मुअज्जिनों का वेतन बढ़ाने की बात कही. बता दें कि बढ़ी हुई सैलरी का भुगतान दिल्ली वक्फ बोर्ड द्वारा किया जाएगा. सीएम केजरीवाल की घोषणा के अनुसार बोर्ड के तहत आने वाले इमामों को दस हजार रुपए प्रति महीने मिलने वाली सैलरी को बढ़कर अब 18 हजार रुपए प्रति महीना कर दिया गया है. वहीं मुअज्जिनों की सैलरी को भी दुगुना कर दिया गया हैं.

उनकी सैलरी में बड़ा इजाफा करते हुए इसे 9,000 से बढ़ाकर 18,000 रुपए प्रति माह कर दिया गया है. सीएम केजरीवाल की इस घोषणा से वक्फ बोर्ड के अंतर्गत आने वाली करीब 200 मस्जिदों के इमामों और मुअज्ज़िनों को सीधा फायदा होगा.

Image: Google

सीएम केजरीवाल ने यह घोषणा शहर में मस्जिदों के इमामों की एक सभा में भाग लेते के दौरान की. साथ ही मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दिल्ली में आगामी लोकसभा चुनावों में वोटों के विभाजन को लेकर आगाह भी किया और फिर यह घोषणा की.

साथ ही केजरीवाल ने दावा किया कि कांग्रेस राष्ट्रीय राजधानी में एक भी सीट पर जीत दर्ज नहीं कर पाएगी. दिल्ली वक्फ बोर्ड द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में बोर्ड के अध्यक्ष और आप के विधायक अमानतुल्ला खान ने बताया कि बोर्ड के अंतर्गत आने वाले 200 मस्जिदों के इमामों और मुअज्जिनों के वेतन में बढ़ोतरी फरवरी से लागू कर दी जाएगी.

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि शहर की 1,500 अन्य मस्जिदों के इमामों और मुअज्जिनों का वेतन भी जल्द ही बढ़ाया जाएगा. इसके बदले में उन्होंने सभी इमामों से आम आदमी पार्टी का समर्थन करने की अपील भी की.

सीएम केजरीवाल ने सभा में वोटों के बंटवारे से सावधान रहने की अपील की और कहा कि अगर ऐसा होता है तो बीजेपी को दिल्ली की सभी सात सीटें जीतने में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा कि अगर आपके वोट बांटे तो देश को भारी नुकसान होगा.