केरल के इस कॉलेज ने लगाया बुर्के पर बैन, देशभर के मुसलमानों में गुस्सा

ईस्टर के मौके पर हमारे पड़ोसी देश श्रीलंका में हुए बम धमा’कों के बाद वहां की सरकार ने बुर्के और चेहरे को ढंकने वाले सभी नकाबों पर बैन लगा दिया गया हैं. इसके बाद से ही इस मामले को लेकर भारत जमकर बयानबाजी की जा रही है. भारत में इस मामले को लेकर बयानबाजी का पारा लगातार बढ़ता जा रहा है और यह मामला रजनीतिक रूप लेता जा रहा है.

लोकसभा चुनाव के बीच बुर्के पर बैन को लेकर छिड़ी इस बहस के बीच पश्चिमी राज्य केरल में बुर्के को लेकर एक ऐसा फैसला सामने आया है जिस पर बवाल होने लगा है. दरअसल केरल के मल्‍लपुरम जिले में स्थित एक मुस्लिम स्कूल में परिसर के भीतर बुर्का पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया गया हैं.

Source: Google

बता दें कि यह स्‍कूल मुस्लिम एजुकेशन सोसायटी की ओर से संचालित किया जाता है. मुस्लिम एजुकेशन सोसायटी की ओर से बुर्का पर बैन का यह फरमान 17 अप्रैल को जारी किया गया था. इसके अनुसार मुस्लिम एजुकेशन सोसायटी के तहत संचालित होने वाले सभी स्कूलों और कॉलेजों में इसे लागू किया जाएगा.

इसके बाद से ही इस फैसले पर हंगामा मचा हुआ है. केरल में कई संगठनों ने इस फैसले पर कड़ा विरोध जाहिर करते हुए कहा है कि यह धार्मिक सिद्धांतों और समुदाय की भावनाओं के विरुद्ध है. उनका कहना है कि मुस्लिम एजुकेशन सोसायटी को फैसला लेने से पहले विभिन्न संगठनों से विचार विमर्श करना चहिये था.

वहीं इससे केंद्र और महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी के साथ सरकार में उनकी सहयोगी शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के जरिए श्रीलंका से सीखते हुए भारत में भी बुर्के को बैन करने की मांग उठाई थी. सामना में लिखा गया था कि पीएम मोदी को पुरे देश में बुर्को को बैन करना चाहिए. शिवसेना ने अपनी इस मांग के पीछे देश की सुरक्षा का हवाला दिया था.

Leave a comment