बच्ची से दु’ष्क’र्म कर सऊदी अरब भाग गया था आरोपी, केरल की IPS ऑफिसर बुर्क़ा पहनकर लाई भारत, देखिए

तिरुवनंतपुर’म: केरल की 29 वर्षीय युवा आईपीएस अधिकारी मेरिन जोसेफ इन दिनों खासी सुर्खियों में हैं, क्योंकि उन्होंने जो काम किया है वो दूसरों के लिये एक मिसाल बन गया है दरअसल केरल के कोल्ल’म में एक व्यक्ति दो साल पहले 13 साल की बच्ची से दु’ष्क’र्म कर सऊदी भाग गया था। पुलिस में शिकायत दर्ज होने के बावजूद उसका कोई अता पता नहीं था। महीनो तक चली पूछताछ में पता पड़ा आरोपी सऊदी अरब में है। 29 साल की आईपीएस अधिकारी मेरिन जोसेफ ने आरोपी को सऊदी अरब जाकर गिरफ्ता’र किया और लाई भारत।

मामला 2017 का है। सुनील कुमार 38 रियाद से केरल छुट्‌टियां मनाने पहुंचा था। यहां वह दोस्त की भांजी के साथ कई दिनों तक दु’ष्क’र्म करता रहा। बच्ची के बताने पर मामला थाने पहुंचा लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी आरोपी सऊदी अरब भाग चुका था। लुकआउट नोटिस जारी हुआ। कोई फायदा नहीं हुआ और केस पेंडिंग में पड़ा रहा। इस बीच बच्ची को कोल्लम के कारीडोड़ के सरकारी महिला मंदिरम रेस्क्यू होम में शिफ्ट कर दिया गया। जहां जून 2017 में उसने खु’दकु’शी कर ली थी।

Image Source: Google

पिछले महीने आईपीएस मेरिन जोसेफ की पोस्टिंग कोल्लम में हुई। पद संभालते ही उन्होंने महिलाओं और बच्चियों से जुड़े केस खंगालने शुरू किये। तभी उनकी नजर इस केस पर पड़ी और उन्होंने इस पर कार्रवाई के आदेश दिए। आईपीएस अफसर ने कहा- पोस्टिंग के बाद मुझे पता चला कि आरोपी दो साल से फरार है।

आरोपी को पकड़ने के लिए केरल पुलिस की अंतरराष्ट्रीय जांच एजेंसी सऊदी पुलिस के साथ काम कर रही है। ऐसे में मैंने इन प्रयासों को जोर दिया। इस बीच उन्होंने सूचना मिली कि सऊदी पुलिस ने आरोपी सुनील को हिरासत में ले लिया है। हमने कार्रवाई के लिए सऊदी का रुख किया।

Image Source: Google

इस्लामिक देश की परंपरा का सम्मान करते हुए आईपीएस अधिकारी मेरिन जोसेफ काले अबाया या बुर्का पहन कर सऊदी की राजधानी में तीन दिन बिताए और बड़ी संख्या में प्रवासियों को कड़ी चेताव’नी दी। साथ ही भारतीय पुलिस ने उनकी कार्रवाई के लिए प्रशंसा हासिल की।

जोसेफ ने एक किशोर लड़की से दु’ष्क’र्म के मामले को सुलझा लिया और आरोपी को रियाद से गिरफ्तार किया। भारत ले आई आरोपी सुनील कुमार भद्रन 38 रियाद में एक टाइल फिक्सर में काम कर रहा था।