VIDEO: भारत कश्मीर मुद्दे को लेकर महमूद मदनी ने दिया बयान, पाक को सुनाई खरी खोटी

जमीयत उलेमा ए हिंद ने जम्मू कश्मीर और वहां के मुसलमानों को लेकर चल रहे विवाद पर अपना बयान दिया है| उन्होंने जम्मू-कश्मीर और मुसलमानों को लेकर पाकिस्तान को खरी खोटी सुनाई है| गुरुवार को जमायत उलेमा ए हिंद ने दिल्ली में हुई आम परिषद की बैठक में एक प्रस्ताव पारित किया, जिसमें ये दोहराया गया कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है| बता दें कि जमीयत उलेमा ए हिंद के जनरल सेक्रेटरी महमूद मदनी ने कहा कि कश्मीर भारत का अभि’न्न अंग देश की सुरक्षा और अखंडता के साथ कोई समझौता नहीं होगा भारत हमारा देश है और हम इसके साथ खड़े हैं|

आपको बता दें कि जमीयत उलेमा ए हिंद के जनरल सेक्रेटरी महमूद मदनी ने पाकिस्तान पर आरोप लगाते हुए कहा कि पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर ये प्रोजेक्ट करने की कोशिश कर रहा है कि भारत के मुसलमान भारत के खिलाफ हैं, हम पाकिस्तान की इस हरकत की कड़ी निंदा करते हैं|

इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा कि अलगाववादी आंदोलन देश के लिए नुकसानदायक है, सभी कश्मीरी हमारे अपने देश के हैं| जमीयत उलेमा ए हिन्द ने कहा है कि कोई भी अलगाववादी आंदोलन सिर्फ देश के लिए ही नहीं कश्मीर के लोगों के लिए भी नुकसानदायक होगा|

खास खबर पर छपी खबर के मुताबिक़ मदनी ने कहा कि हमारे देश की सुरक्षा और अखंडता के साथ कोई समझौता नहीं होगा। जानकारी के लिए बता दें कि पिछले दिनों जमीयत ए उलेमा ए हिंद के अध्यक्ष देवबंद के मौलाना अरशद मदनी ने आरएसएस सुप्रीमो मोहन भागवत से मुलाकात की थी| उन्होंने यह मुलाकात संघ के दिल्ली कार्यालय केशव कुंज में जाकर की थी|

 

बता दें कि जमीयत उलेमा ए हिंद के इतिहास में पहली बार है जब जमायत का कोई अध्यक्ष संघ के अध्यक्ष से मिलने गया हो| The QUINT से बात करते हुए मौलाना अरशद मदनी ने मोहन भागवत से मुलाकात पर रौशनी डालते हुए बताया कि मुझे तो इस बारे में पता भी नहीं था कुछ लोग बोल रहे थे कि क्या आप मोहन भगवत से मिलना चाहेंगे? मैंने सोचा ये अच्छा विचार है मिल सकते हैं|

इसके बाद उन्होंने बताया कि भागवत जी का एक संगठन RSS है और बहुत मजबूत संगठन है| मुझे लगता है उनके जैसा भारत में कोई दूसरा नहीं है वो मुझसे मिलने से इनकार कर सकते थे लेकिन उन्होंने मुझसे मुलाकात की और मुझे हिंट दी कि हम आगे भी मिलेंगे और बातचीत करेंगे|

इसी के साथ जब NRC के मुद्दे पर मौलाना मदनी से पूछा गया कि अगर सरकार पूरे देश में NRC लागू करना चाहे तो वो उसपर क्या सोचते हैं इसपर मौलाना मदनी ने कहा कि मेरा दिल चाहता है कि मैं डिमांड करूं कि सारे मुल्क में कर लो पता चल जाएगा कि घुसपैठिया कितने हैं| जो असली हैं उनके ऊपर भी दाग लगाया जाता है इसलिए सरकार के एसा करने से मुझे कोई दिक्कत नहीं है|

साभारः #TheQuint