Home इस्लाम VIDEO: हर रोज़ मक्का शरीफ की मस्जिद अल हरम को 2,000 कर्मचारी करते है मात्र 30 मिनट में सफाई, इत्र से मस्जिद को करते है खुशबूदार

VIDEO: हर रोज़ मक्का शरीफ की मस्जिद अल हरम को 2,000 कर्मचारी करते है मात्र 30 मिनट में सफाई, इत्र से मस्जिद को करते है खुशबूदार

VIDEO: हर रोज़ मक्का शरीफ की मस्जिद अल हरम को 2,000 कर्मचारी करते है मात्र 30 मिनट में सफाई, इत्र से मस्जिद को करते है खुशबूदार

सऊदी अरब में स्थित इस्लाम धर्म की दो सबसे पवित्र मस्जिदों में इन दिनों रमज़ान की रौनक देखने को मिल रही है. सऊदी प्रेसीडेंसी दो पवित्र मस्जिदों के मामलों के लिए भव्य मस्जिद को साफ और इत्र से पाक मस्जिद को महकाने में जुटी हुई है. सऊदी अरब में जल्द ही रमजान के बाद हज यात्रा शुरू होगी जिसके तहत दुनियाभर से लोग सऊदी आएंगे.

सऊदी प्रेस एजेंसी के अनुमानित सऊदी अरब एक लाख वर्ग मीटर में स्थित कुल क्षेत्रफल के साथ इसकी फर्श, सतहों और पियाज़ों को पोंछ और स्टरलाइज़ करना शामिल है. सोमवार को जारी की गई सुचना के अनुसार सऊदी अरब में मस्जिद में सफाई के लिए कर्मचारियों की भर्ती की गई है.

saudi mkka
Image Source: Google

प्रेसिडेंसी ने 2,000 से अधिक पुरुष और महिला कर्मचारियों को इसके काम पर रखा है, जो चौबीसों घंटे उपलब्ध हैं. मस्जिद की सफाई के लिए इन्हें खास तरह की ट्रेनिग भी जाती है.

 

आपको बता दें कि यह लोग एक लाख वर्ग मीटर में स्थित इस मस्जिद की सफाई तीर्थयात्रियों, आगंतुकों और रोज़ेदारों को इबादत को पूरा करने में बिना कोई बाधा डाले करते है. वह इस पूरी ग्रैंड मस्जिद की सफाई में केवल 45 मिनट लगते हैं.

मताफ की सफाई करने में सिर्फ 30 मिनट लगते हैं और विश्वास योग्य लोगों की घनी भीड़ के बीच एक उच्च तकनीकी फैशन भी तेजी से किया जाता है. कुछ 30 विशेष विद्युत कारें, 67 अन्य मशीनें और 400 लीटर पानी का उपयोग मताफ को सफाई और स्टरलाइज़ करने के लिए उपयोग किया जाता है.

saudi chappar
Image Source: Google

सफाई प्रक्रिया के लिए उपयोग किए जाने वाले पानी की औसत मात्रा माताटाफ के 12 वर्ग मीटर के लिए एक गिलास पानी के बराबर है. जिसका क्षेत्रफल लगभग 500 वर्ग मीटर है. सफाई के लिए उपयोग होने वाले उपकरण और उपकरण हानिकारक नहीं होते हैं अपितु पर्यावरण के अनुकूल हैं.

यही बात डिटर्जेंट पर लागू होती है जो जैविक और सुरक्षित होता हैं. ग्रैंड मस्जिद और इसके पियाज़ा से प्रतिदिन लगभग 100 टन कचरा एकत्र करने के लिए अलग से विशेषज्ञ दल हैं. प्रतिदिन एकत्र होने वाले कचरे की मात्रा चरम अवधि के दौरान 300 टन तक बढ़ जाती है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here