आगरा में नाबालि’ग का अपहर’ण, म’चा बवा’ल, ड’र के चलते कई परिवारों ने छोड़ा गांव

यूपी अक्सर सुर्ख़ियों में बना रहता है आये दिन वहाँ से कोई न कोई घट’ना की खबर आती ही रहती है| इसी के चलते हाल ही में आगरा से एक ना’बालि’क के अ’पहर’ण का मामला सामने आया है जिसके चलते जिले में सां’प्रदायि’क घट’ना के एक दिन बाद कई परिवारों ने डर के चलते गांव छोड़ दिया। वहीँ दूसरे समुदाय द्वारा एक ना’बालि’ग लड़’की के अ’पहर’ण की खबर के चलते जनता बेका’बू हो गयी और इलाके में कई दुकानों को आ’ग के हवा’ले कर दिया जिससे पूरे इलाक़े में दं$गे जैसी स्थिति पैदा हो गई है।

आगरा के एत्मादपुर में सेमरा गांव की मार्केट में भाई के साथ दुकाने चलाने वाले इसरार ने बताया कि उन्होंने मंगलवार को शाम करीब पांच बजे लगभग 300 लोगों की भी’ड़ की आवा’ज सुनी जो उन्हीं की दुकान की तरफ आ रही थी।

इसरार ने बताया कि हम ड’र गए थे और किसी तरह वहां से भागे, मगर उन्होंने हमारी दुकान को नहीं छोड़ा। हमारी दुकान जला दी गई, जिससे ला’खों रुपए का नुकसान हो गया। दुकान में तोड़फो’ड़ भी की और बहुत सा सामान लूट कर ले गए। इस दौरान वो मुझे लगातार कहते रहे कि हमारे जाने का समय आ गया है। अब दुकान ही ख’त्म हो गई है इसलिए हमें बाहर जाना ही होगा हम यहां सुरक्षि’त नहीं है।

इसी बीच स्थानीय निवासियों ने बताया कि कुछ परिवारों ने आधी रात को हिंसा समाप्त होने के बाद घर छोड़’ना शुरू कर दिए हैं। पुलिस के मुताबिक सुबह साढ़े सात बजे स्कूल जाने के बाद जब 15 वर्षीय लड़की घर वापस नहीं लौटी तो उसके परिवार ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। मामले में एक एफआईआर आईपी’सी की धा’रा 363 के तहत एक ना’बालि’ग लड़के के खिला’फ दर्ज की गई जो उसी की कॉलो’नी में रहता है।

इस मामले के चलते लड़की के पिता ने कहा कि उसके स’हपाठि’यों ने बताया कि वो रोज उनके साथ स्कूल जाती थी मगर उसे एक कॉलोनी के नजदीक रोक लिया गया जहां मु’स्लि’म आबादी है। लेकिन फिर वहां से वो लोग स्कूल के लिए निकल गए मगर बाद में बेटी सहपाठि’यों के साथ नहीं आ सकी।

साथ ही उन्होंने बताया कि कॉलोनी के कुछ लोग उन्हें परेशान कर रहे थे। बेटी की खोजबीन के लिए हमने कानूनी प्रक्रिया का पालन किया है। यह एक व्यक्तिगत मु’द्दा था और हमने दं$गों में किसी तरह की कोई भूमिका नहीं निभाई है।

वहीँ दूसरी ओर पुलिस ने बताया कि लड़का और लड़की दोनों एक दूसरे को पहले से जानते थे। पुलिस ने दोनों को आगरा के करीब में खोजा है। इस मामले में वेस्ट रूरल के एसपी रवी कुमार ने बताया कि हमने एफआईआर तुरं’त दर्ज कर ली थी जबकि कुछ लोगों ने आगजनी की और दो तीन दुकानों को आग के हवा’ले कर दिया गया।

इसके बाद उन्होंने बताया कि हालांकि पुलिस और पीएसी की त्वरित कार्रवाई के बाद हालात काबू कर लिए गए है। अब अगले चरण में दंगाई’यों के खिला’फ एफआईआर दर्ज की जाएगी साथ ही दुका’नों के नुकसान के लिए व्यक्तिग’त शिकाय’त भी दर्ज की जाएगी।

साभारः #Jansatta