VIDEO: मस्जिदों की संख्या में ये तीन देश हैं सबसे आगे, एक का नाम सुनकर हो सकते हैं हैरान

इस्लाम दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा धर्म है, इस्लाम में खुदा की इबादत करने के लिए मस्जिद का उपयोग किया जाता है. दुनिया भर के ज्यादातर देशों में इस्लाम धर्म फैला हुआ है और वहां पर मस्जिदें भी बनाई गई है. यूं तो दुनिया भर के सभी देशों में मस्जिदें बनी हुई है लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे देशों के बारे में बताने जा रहे है जहां पर सबसे अधिक मस्जिदें है. आपको बता दें कि हम आपको तीन ऐसे देशों में बारे में बताने जा रहे है जिसमें आपको एक देश का नाम जानकर हैरानी हो सकती है. तो चलिए नजर डालते है मस्जिदों पर

इंडोनेशिया- मस्जिदों की संख्या के मामले में जो देश सबसे पहले स्थान पर है वह है इंडोनेशिया. इस देश में सबसे ज्यादा मस्जिदें है. आपको बता दें कि दुनिया में सबसे अधिक मुस्लिम आबादी भी इंडोनेशिया में ही है.

insonisia mosque
Image Source: Google

यह एक द्वीपीय देश है. इस देश की खास बात यह है कि यह एक गौरवशाली हिन्दू इतिहास भी रखता है. इस देश में रामलीला का मंचन किया जाता है. इस मुस्लिम देश में करीबन 8 लाख मस्जिद मौजूद है जो दुनिया में किसी एक देश में मौजूद मस्जिदों में सबसे अधिक है.

भारत- मस्जिदों की संख्या के मामले में भारत दुसरे नंबर पर है. भारत का नाम इस लिस्ट में होना कुछ लोगों के लिए हैरानी भरा होगा. भारत में करीब 30 लाख मस्जिद मौजूद है और यह बताता है कि भारत में मुस्लिम कितने सुरक्षित है. यह आंकड़ा उन लोगों के गाल पर एक तमाचा है जो भारत को मुस्लिमों के लिए असुरक्षित बताते है.

Jama Masjid Main
Image Source: Google

भारत में रहने वाला कोई भी आम मुस्लिम इंसान खुद को असुरक्षित महसूस नहीं करता है. आपको बता दें कि भारत में बड़ी संख्या में मुस्लिम आबादी है. वहीं जहां तक मुस्लिमों में डर की बात की जाए तो यह डर केवल कुछ लोग अपने राजनैतिक फायदें के लिए फैलाते है.

star mosque
Image Source: Google

बांग्लादेश- भारत के पड़ौसी देश बांग्लादेश में भी मस्जिदों की तादात काफी है वह इस मामले में तीसरे नम्बर पर है. बांग्लादेश में 25 लाख से ज्यादा मस्जिद स्थित है. भारत बंटवारे के समय बांग्लादेश पाकिस्तान के हिस्से में आया था जिसके बाद अलग होकर एक देश के रूप में आ गया था. भारत एक अच्छे पड़ोसी के रूप में बांग्लादेश की हमेशा मदद करता है.

 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *