VIDEO: जापान ओलंपिक के दौरान इस खास ‘मस्जिद’ में नमाज पढ़ सकेंगे मुस्लिम खिलाड़ी

अपनी टेक्नोलॉजी का दुनियाभर में दम भरने वाले जापान ने एक और कीर्तिमान बनाया है इस बार उसने धार्मिक सद्भावना की मिसाल पेश की है। बता दें जापान की राजधानी टोक्यो में इसी साल जुलाई में ओलंपिक खेलों का आयोजन होना है जिसके लिए तैयारियां  भी जोरों पर है और जापान इस आयोजन में किसी भी तरह से कोई भी कमी नहीं रहने देना चाहता है।

जुलाई में ओलंपिक खेलों का आयोजन होना है। और ऐसे में मुस्लिम खिलाडी या दर्शको को नमाज़ पड़ने के लिए एक अलग से जगह की जरुरत होती है ऐसे में जापान ने एक चलती फिरती मस्जिद तैयार की है जिसमे लोग नमाज़ पढ़ सकेंगे, इसका नाम ‘मोबाइल मस्जिद’ रखा गया है।

मोबाइल मस्जिद की खासियत और इसकी खूबसूरती

इस मोबाइल मस्जिद को एक ट्रक के ऊपर तैयार किया गया है जिसे पार्क करने के बाद यह दोनों ओर से खुल कर अपना आकार बढ़ा कर लेती है खुलने के बाद इसका आकार 48 वर्गमीटर तक हो जाता है। जिसमे एक बार में 50 लोग इसमें नमाज़ पढ़ सकते है। ट्रक के बहर की दीवारों पर अरबी भाषा में निर्देश भी लिखे है और बाहर ही हाथ-मुहं धोने के लिए भी इंतजाम किए गए है।

आपको बता दे की जापान में 2 लाख के करीब मुस्लिम आबादी निवास करती है वासेदा यूनिवर्सिटी के मुताबिक साल 2018 के अंत तक जापान में 105 मस्जिदें थीं, प्रार्थना स्थलों की इस कमी को देखते हुए ही इस प्रकार की योजना पर विचार किया गया था।

जापान में है प्रार्थना स्थलों की कमी-

पहले मोबाइल मस्जिद का उद्घटान इसी सप्ताह टोयोटो स्टेडियम के बाहर किया गया था। इस मस्जिद के उद्घाटन समारोह में इंडोनेशिया के छात्रों ने शिरकत की थी, एक छात्र ने कहा, “मोबाइल मस्जिद बेहद अहम है, यह जापान के लोगों के साथ साथ विदेशी पर्यटकों के लिए भी जरूरी है, मैं इसे अपने दोस्तों को दिखाना चाहता हूं।

 

यासु ग्रुप के CEO यासुहारु इनौ को उम्मीद है कि खिलाड़ी और समर्थक इस ट्रक का इस्तेमाल करेंगे। वह कहते हैं, मैं चाहता हूं कि एथलीट पूरी प्रेरणा के साथ प्रतिस्पर्धा में भाग लें और दर्शक भी उसी प्रेरणा के साथ खिलाड़ियों का प्रोत्साहन करें। इसी के लिए मैंने यह तैयार किया है।

मुझे उम्मीद है कि इससे जागरूकता आएगी कि दुनिया में अलग-अलग तरह के लोग हैं और इससे भेदभाव मुक्त और शांतिपूर्ण ओलंपिक और पैरा ओलंपिक को बढ़ावा मिलेगा।”पहले मोबाइल मस्जिद का उद्घटान इस सप्ताह टोयोटो स्टेडियम के बाहर किया गया था।