NDTV की इस रिपोर्ट ने मुसलमानों के खिलाफ फैलाये जा रहे सबसे बढ़े झूठ का खुलासा किया, देश के मुस्लिम बोले शुक्रिया

देशभर में हमने काफी लोगों के मुहं से ये सुना है की मुसलमान लोग 10 बच्चे पैदा करते हैं. फिलहाल मौजूदा समय को देखा जाय तो तमाम लोग और दुनियाभर के देशों में तक इस्लाम और मुसलमानों के खिलाफ तरह-तरह से प्रोपगेंडा चला रहे हैं, और ये बेहद अफसोसजनक बात है कि हमारा भारत देश भी इससे अछूता नहीं रहा है|

भारत में मुसलमानों की आबादी को लेकर सबसे बढ़ा खुलासा

यहाँ भी आये दिन यहाँ पर मुसलमानों को लेकर तमाम अफवाहें फेलाई जाती है, और यहाँ के गैर मुस्लिम भाइयों के दिलों में मुसलमानों का खौफ, डर पैदा कर अपनी सियासी रोटियां सेंकने का काम यहाँ की राजनीतिक पार्टियाँ करने में लगी हुयी हैं. हालांकी देर सवेर उसका पर्दाफाश भी होता रहा है|

अब आप इन्ही में से एक अफवाह ये देखेंगे की भारत में मुसलमानों की जनसंख्या में तेज़ी से बढ़ोतरी की अफवाह को किस कदर फेलाया गया और कुछ नेताओं ने भी अपने बयानों के ज़रिये ये कहा की भारत में मुसलमानों की आबादी बढ़ती जा रही है और इन्हें नहीं रोका गया तो अनर्थ हो जायेगा. यानी कुछ साल बाद ये लोग बहुसंख्यकों पर राज करेंगे|

लेकिन अब एनडीटीवी ने विडियो के ज़रिये ये बढ़ा खुलासा किया गया है की हमारे इंडिया में पिछले 10 सालों में हिंदुओं और मुसलमानों की आबादी बढ़ने की रफ़्तार में गिरावट आई है. मतलब मुसलमान भी अब ज्यादा बच्चे पैदा नहीं कर रहे हैं और पिछले 23 साल के आंकड़े के हिसाब से ये स्तर बहुत कम हुआ है|

पिछले दो दशकों में भारत के मुसलमानों की आबादी का स्तर तेज़ी से घटा है

हिंदू, मुस्लिम ही नहीं, ईसाई, सिख, बौद्ध और जैन, इन सभी समुदायों की जनसंख्या वृद्धि की दर में गिरावट आई है. इसका मतलब ये हुआ की भारत की जनता पहले से अधिक समझदारी दिखाते हुए बच्चे कम पैदा कर रही है जिससे उनका भविष्य सुरक्षित रहे|

NDTV के द्वारा दिए गे जनगणना के आंकड़ों के हिसाब से अभी तक देश में हिंदुओं की आबादी 96.63 करोड़ है, जो कि कुल जनसंख्या का 79.8 फ़ीसद है. वहीं मुसलमानों की आबादी 17.22 करोड़ है, जो कि जनसंख्या का 14.23 फ़ीसद होता है|

NDTV का इस मुद्दे पर दिखाया गया विडियो सोशल मीडिया में तेज़ी से वायरल हो रहा है. आप भी इस विडियो को देखने के बाद अपनी राय ज़रूर दें. और इस वीडियो को शेयर कर दुसरे सभी लोगों को जागरूक करें. देशभर के मुसलमान लोग NDTV न्यूज़ चैनल को इस सच को सामने लाने के लिए उनका शुक्रिया अदा कर रहे हैं|