मुस्लिम बहुल इलाकों में इस बार बीजेपी प्रत्याशीयो पर मुसलमानों ने खूब लुटाए वोट, देखिए

लोकसभा चुनाव में बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए ने सभी विपक्षी पार्टियों का सफूड़ा साफ कर दिया है. देश की जनता ने एक बार फिर से नरेंद्र मोदी में अपना विश्वास जताया है. बीजेपी ने इस बार बड़े-बड़े दिग्गजों के गढ़ हिला दिए है. माना जा रहा है कि इस बार बीजेपी को मुस्लिम वोट भी खूब मिले है जबकि आम धारणा है कि मुस्लिम कांग्रेस का कोर वोटर है और वह हर हाल में उसे ही वोट करता है.

लेकिन इस बार मुस्लिमों ने किसी पार्टी विशेष की लकीरों को तोड़ते हुए बीजेपी और पीएम मोदी पर अपना विश्वास जताया है. यही वजह है कि बीजेपी प्रत्याशी ऐसी सीटों पर भी जीतने में कामयाब रहे है जहां पर मुस्लिम आबादी सबसे ज्यादा है और वहीं पार्टी का भविष्य तय करती है.

pm modi with muslim
Image Source: Google

ऐसा ही कुछ दिल्ली की लोकसभा सीटों पर देखने को मिला है. राजधानी की तीन लोकसभा क्षेत्रों के दायरे में आने वाली करीब दस विधानसभा सीटें ऐसी हैं जहां पर मुस्लिम वोटरों की तादात बाकि वोटरों की तुलना में अधिक हैं.

इनमें चांदनी चौक लोकसभा से बल्लीमारान, चांदनी चौक, मटिया महल, सदर बाजार, ईस्ट दिल्ली से ओखला व गांधी नगर है. वहीं नॉर्थ ईस्ट दिल्ली लोकसभा सीट की बाबरपुर, सीलमपुर, मुस्तफाबाद व सीमापुरी भी ऐसी विधानसभाएं हैं जहां मुस्लिम वोटर बड़ी संख्या में है.

अगर मोटे तौर पर बात की जाए तो इन विधानसभाओं में से तीन मुस्तफाबाद, सीमापुरी व गांधी नगर विधानसभाएं ऐसी हैं जहां इस बार बीजेपी वोटों के मामले में नंबर एक पर रही हैं जबकि सात सीटों पर कांग्रेस पहले नंबर पर रही है. वहीं दिल्ली की सत्ताधारी आप सभी 10 विधानसभा सीटों पर तीसरे नंबर पर रही है.

खास बात यह भी है कि इन मुस्लिम बहुल सीटों पर इस बार बीजेपी प्रत्याशियों को पिछले लोकसभा चुनाव की तुलना में काफी ज्यादा वोट मिले हैं. आम भाषा में कहे तो मुस्लिम बहुल सीटों पर बीजेपी का वोट प्रतिशत बढ़ गया है. वहीं ईस्ट दिल्ली लोकसभा सीट की ओखला विधानसभा से भी बीजेपी को खूब वोट मिले है.

माना जा रहा है कि मुस्लिम बहुल इलाकों में बीजेपी प्रत्याशी को लेकर मुसलमानों ने इस बार दरियादिली दिखाई है. यही वजह है कि उन्हें पिछले बार की तुलना में इस बार लोकसभा चुनावों से अधिक वोट मिले हैं. ऐसे में सवाल उठ रहा है कि क्या तीन-तलाक के मामले को लेकर मुस्लिम महिलाओं ने बीजेपी को अपना वोट दिया हैं.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *