World Hijab Day: क्या है हिजाब, मुस्लिम महिलाओं के लिए नकाब, बुर्क़ा क्यों है जरुरी, जानें रोचक तथ्य

आज एक फरवरी को दुनियाभर के 140 देशों में वर्ल्ड हिजाब डे (World Hijab Day) मनाया गया है. वर्ल्ड हिजाब डे मनाने का उद्देश्य सभी धर्मों और पृष्ठभूमि से आने वाली महिलाओं को हिजाब पहनने के लिए प्रोत्साहित करना रहता है. हिजाब एक अरबिक शब्द है जिसका मतलब कवर है. हिजाब महिलाओं से जुड़ा है और इसे कई और नामों से भी जाना जाता है. इस्लाम में हिजाब का चलन ज्यादा देखने को मिलता है. आज वर्ल्ड हिजाब डे के मौके पर बात करते है कि आखिर मुस्लिम महिलाएं हिजाब क्यों पहनती हैं? साथ ही हिजाब से जुड़े कुछ अन्य तथ्यों पर भी नजर डालते है.

हिजाब का मुस्लिम धर्म में काफी महत्व है. हिजाब को लेकर कुछ मुस्लिम समुदाय मानते है कि इस्लाम के संस्थापक हजरत मोहम्मद पैगंबर साहब की पत्नियां हिजाब से घूंघट करती थी और इसी के चलते मुस्लिम धर्म की महिलाओं को इसका पालन करने की सलाह दी जाती है.

Image Source: Google

वहीं इसे लेकर कुछ इस्लामिक विद्वान इस बात से अपनी सहमती व्यक्त नहीं करते है. वह सवाल करते है कि अगर पैगंबर साहब की पत्नियों द्वारा हिजाब से घूंघट करने के नियम को क्या सभी मुस्लिम महिलाओं पर लागू किया जाना सही है?

वहीं कुछ लोगों को ऐसा मानना है कि हिजाब या घूंघट को पुरुष की यौन इच्छा को रोकने के लिए पहना जाता है. इसके पीछे उनका मानना है कि सिर और शरीर को ढंकने की परंपरा इस्लाम से पहले भी थी. वह लोग इस बात पर जोर देते है कि इतिहास में युह्दी, ईसाई और हिन्दू महिलाओं द्वारा भी सिर ढकने का उल्लेख हैं.

Image Source: Google

हिजाब पहनने को हमेशा इस्लाम धर्म से जोड़कर देखा जाता रहा है लेकिन हिजाब को सिर्फ धर्म से जोड़ कर देखना गलत है. महिलाऐं इसे और भी कई कारणों से पहनती है जो समय और सामाजिक संदर्भ के आधार पर बदल सकतें है.

कुछ महिलाएं हिजाब को अपनी जातीय पहचान पर गर्व के रूप में भी पहनती हैं. कई मुस्लिम महिलाओं के लिए हिजाब महिला सौंदर्य के मानकों का प्रतिरोध के एक साधन बन चूका है. वहीं शोधकर्ताओं के मुताबिक पश्चिमी देशों में महिलाओं को लगता है कि सिर ढकने से उन्हें काम मिलने में परेशनी होगी जबकि ऐसा नहीं है.

Image Source: Google

हिजाब को कुछ महिलाऐं और शोध एक सुविधा के रूप में देखती है. उनका मानना है कि उन्हें घर से बाहर, सड़क और काम पर उत्पीड़न जैसी घटनाओं से बचने में हिजाब मदद करता है. हिजाब और बुर्का पहने वाली महिलाऐं पुरुषों की बुरी नजर से बचती हैं.