मुस्लिम युवक ने शादी के कार्ड पर लिखवाया कुछ ऐसा की पुलिस ने किया गिरफ्तार

लोकसभा चुनाव 2019 जारी है. हाल ही में पहले चरण के लिए मतदान किया गया था और अब 18 अप्रैल को दुसरे चरण का मतदान होने वाला है. चुनाव आयोग ने 10 मार्च को चुनावों की तारीखों का ऐलान किया था और इसी के साथ ही देश भर में आदर्श आचार संहिता लागु हो गई है. देश भर में चल रही आदर्श आचार संहिता के बीच एक मामला सामने आया है जो चर्चा का विषय बना हुआ है.

दरअसल एक शख्स ने अपनी शादी के कार्ड में बीजेपी को वोट करने की अपील की जो उसे भारी पड़ गई हैं. महाराष्ट्र के मुस्लिम युवक ने अपनी शादी के कार्ड में बीजेपी उम्मीवार को वोट करने की अपील की थी.

उन्होंने शादी के कार्ड में लिखवाया था कि मेरी शादी में कोई उपहार न दें, लेकिन कल डॉ सुजय विखे पाटील बीजेपी के अहमदनगर से उम्मीदवार को वोट दें. लेकिन यह अपील लिखना अब मुस्लिम युवक फिरोज को भारी पड़ गया है.

शादी के कार्ड पर इस तरह की अपील करने की खबर जैसे ही पुलिस तक पहुंची. पुलिस ने उसे घर से गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने देश भर में लागु आचार संहिता के उल्लंघन का हवाला देते हुए कठोर कार्रवाई की बात भी कही है.

फिरोज रिटायर्ड पोस्टमास्टर अलाउद्दीन शेख का बेटा है. इस दौरान फिरोज जहां भी शादी का कार्ड देते थे डॉ सुजय विखे पाटील को वोट देने की अपील भी करते थे. जिसके बाद यह मामला चर्चा में आने लगा और बात चुनाव अधिकारीयों तक पहुंची तो चुनाव अधिकारी ने इसके बारे में जांच शुरू की.

इसके बाद जब वास्तविकता सामने आई तो उन्होंने आचार संहिता के उल्लंघन के लिए युवक को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए. इसके बाद से ही निमंत्रण कार्ड सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा हैं.

एसडीएम और सहायक चुनाव अधिकारी विशाल तानपुरे के निर्देश पर पुलिस अधिकारी शान मोहम्मद शेख ने फिरोज के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज किया फिर उसे गिरफ्तार कर लिया. हालांकि बाद में अदालत ने उन्हें जमानत पर छोड़ दिया.