चौकीदार और उसके शागिर्दों ने बिना सबूत गलत जगह हाथ डाल दिया है: अहमद पटेल

जैसे-जैसे चुनावों की तरीखें नजदीक आती जा रही है वैसे-वैसे देश भर में सियासी तापमान भी चढ़ता जा रहा हैं. नेताओं की जुबान बेलगाम होती जा रही है और लगातार आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. इसी बीच भारतीय जनता पार्टी और मोदी सरकार ने एक बार फिर से अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले के मुद्दों को उछालना शुरू कर दिया हैं. बीजेपी इस मामले में कांगेस के कई दिग्गज नेताओं पर आरोप लगा रही है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को इस मामलों पर बोलते हुए कांग्रेस के कई दिग्गज नेताओं को घेरा. पीएम मोदी ने कांग्रेस के सीनियर नेता और गांधी परिवार के करीबी कहे जाने वाले अहमद पटेल का नाम लेकर सनसनी पैदा कर दी.

वहीं पीएम मोदी द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने पीएम मोदी पर हमला बोला है. पटेल ने पीएम मोदी के आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा है कि चौकीदार और उनके शागिर्दों ने बिना सूबत के गलत जगह पर हाथ डाला है उन्हें जनता सबक सिखाकर रहेगी.

अहमद पटेल ने अपने ट्वीटर अकाऊंट से किये गए ट्वीट में आगे कहा कि नोटबंदी और राफेल के दलाल अब बच नहीं पाएंगे. आपने यह कहावत सुनी ही होगी कि एक चोर को हर कोई चोर ही नजर आता है. आपको बता दें कि पीएम मोदी ने देहरादून की सभा में अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले का मामला उठाया था.

उन्होंने इस मामले में गिरफ्तार किये गए बिचौलिया मिशेल का जिक्र किया और बताया कि इस मामले से जुड़ी चार्जशीट में एपी और एफएएम का भी जिक्र किया. इसे लेकर पीएम मोदी ने कहा कि हेलिकॉप्टर के दलालों ने जिन लोगों को घूस देने की बात कही है उनमें से एक एपी है और दूसरा एफएएम है.

पीएम ने आगे कहा कि इसी चार्जशीट में कहा गया है कि एपी का मतलब है अहमद पटेल और एफएएम का मतलब है फैमिली हैं. इसके बाद पीएम ने लोगों से पूछा कि आप बताइये अहमद पटेल किस फैमिली के निकट हैं? हेलिकॉप्टर की दलाली किसने खाई?