VIDEO: मेरठ में सड़कों पर नमाज़ के बाद अब कुर्बानी पर पाबंदी

मेरठ: शुक्रवार यानि जुमे के दिन बड़ी तादाद में मुस्लि’म लोग नमाज पढ़ने के लिए मस्जिदों में उमड़ते हैं। जुमे वाले दिन नमाजियों की भीड़ इतनी ज्यादा होती है कि बड़ी तादाद में लोग सड़क पर भी नमाज पढ़ते हैं, जिस वजह से सड़कों पर लम्बी लम्बी लाइन लग जाती है और लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। लेकिन अब मेरठ में जल्द ही सड़कों पर नमाज की वजह से लोगों को होनी वाली परेशानी से भी राहत मिल गई दरअसल मेरठ में पुलिस प्रशासन और मुस्लि’म धर्मगुरुओं के बीच सड़क पर नमाज न पड़ने को लेकर आपसी सहमती बन चुकी है।

Image Source: Google

दरअसल जनपद के एसएसपी ने नायब शहर काजी को साफ चेताव’नी दी है कि जुमे की नमाज सड़क पर नहीं पढ़ी जाएगी। गुलमर्ग पर पशु’ओं की पैंठ नहीं लगेगी। और ऊं’ट की कुर्बा’नी किसी ने की, तो उसे सीधे जेल भेजा जाएगा। वहीं ईद की नमाज पूर्व की तरह अदा की जाएगी। इस पर नायब शहर काजी और उनके साथ एसएसपी से मिलने गए मौलानाओं ने कहा कि वे पुलिस-प्रशासन के साथ हैं।

वहीं मेरठ ज़ोन में बकरीद और स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों के मद्देनजर शहर को चार जोन में बांटा गया है। संवेदनशी’ल इलाकों में एक कंपनी आरएएफ और दो कंपनी पीएसी तैनात की गई है। इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट कॉम के अनुसार, मेरठ में एसएसपी की पहल के बाद मुस्लि’म समुदाय के लोगों ने सहयोग किया।

 

जिसके बाद आज जब जुमे की नमाज अदा की गई तो ट्रैफिक चलता रहा। मेरठ में आज नमाज के वक्त मस्जिद के अंदर और सड़क किनारे पटरी पर रस्सी लगई गई जिसके अंदर ही नमाज अदा की गई।

Leave a comment