अब मॉब लिंचिं’ग की घट’ना में अब ऐसे मिलेगी तुरंत मदद, जारी हुआ यह नम्बर

भारत में मॉब लिंचिं’ग की घट’नाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं. हिंस’क भी’ड़ द्वारा कानून को हाथ में लेने और उग्र होकर किसी मामले के आरोपी की पी’ट-पी’टकर ह@त्या करना बेहद चिंताजन’क है. अब ताजा मामला राजस्थान के राजसमंद जिले है, जहां के भीम उपखंड में जमीन विवाद की जांच करने गए हेड कॉन्स्टेबल अब्दुल गनी की भी’ड़ ने पी’ट पी’टकर मा’र डाला। देश की सबसे बड़ी अदालत भी लिंचिं’ग की घट’नाओं को लेकर बेहद सख्त है. तहसीन पूनावाला केस मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट मॉब लिंचिं’ग की घट’नाओं को रोकने के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के लिए गाइडलाइन तक जारी कर चुका है।

सबसे ज्यादा मॉब लिंचिं’ग में मुसलमा’नों और दलितों को निशाना बनाया जा रहा है. दाढ़ी-टोपी से पहचान रखने वालों को पी’टा जा रहा है. कभी गाय चोरी तो कभी गौ’वध का आरोप लगाकर बेकसूर युवकों की जा’न ली जा रही है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी राज्य सरकारें खामोश हैं. मॉब लिंचिं’ग के खिला’फ कानून नहीं बनाया जा रहा है. अभी सिर्फ केरल सरकार ने इस दिशा में पहल की है. जबकि देश के और राज्य सरकारों इस मामले को लेकर गंभी’र नज़र नहीं आ रही है।

Image Source: Google

अब लिंचिं’ग की घट’ना को रोकने के लिए यूनाइटेड आगेंस्ट हेट के नदीम खान ने प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि मॉब लिंचिं’ग और हेट क्राइम के पीड़ितों को तुरंत मदद देने के लिए एक हेल्पलाइन नम्बर जारी किया गया है. प्रेस क्लब में आयोजित कार्यक्रम में जमाअत-ए-इस्लामी हिन्द के राष्ट्रीय सचिव मलिक मोहतसिम खान ने कहा, मॉब लिंचिं’ग और नफरती हिं’सा की घट’नाओं में बढ़ोतरी चिं’ता का विषय है।

हमें समाज की मनोदशा को बदलने के लिए मिल-जुलकर काम करना होगा जा’न और माल की हिफाज़त की ज़िम्मेदारी सरकार की है. सरकार को इस सिलसिले में ठोस क़दम उठाना होगा नदीम खान ने बताया कि टोल फ्री नंबर 1800-3133-60000 जारी किया गया है. इस पर 24 घंटे कॉल की जा सकती है. हेल्पलाइन का मकसद मॉब लिंचिं’ग और हेट क्राइम के शिकार लोगों को त्वरित न्याय दिलाने में मदद करना।

Image Source: Google

मीडिया के ज़रिए सही पक्ष की रिपोर्टिंग डॉक्यूमेंटेशन और न्यायिक मदद की कोशिश करना होगा. साथ ही इस तरह के हम’लों की घट’नाओं का दस्तावेज़ तैयार कर उस पर चरणबद्ध तरीके से आंदोलन की रुपरेखा तैयार की जाएगी।

फाउंडर अध्यक्ष माइनॉरिटी क्रिश्चियन फोरम ने कहा, पीड़ि’तों की मदद के लिए हेल्पलाइन नम्बर जारी करना एक अच्छी कोशिश है. ईसाइयों को भी निशाना बनाया गया और देश भर में कई घटनाएं हुईं हैं. इस संविधान को बचाने के लिए सबको सामने आना होगा प्रेम-भाईचारे का माहौल बना कर भारत को आगे बढ़ाना है।

इस मौके पर हेल्पलाइन नम्बर जारी करते हुए डॉक्टर कफ़ील ने कहा एक खास संगठन देश में नफ़रत के बीज बोने का काम कर रहा है. सरकारें उस काम को आगे बढ़ा रही हैं. धर्म के नाम पर लोगों को मा’रा जाना बहुत अफसोसजनक है।